Home /News /nation /

ओमिक्रॉन के खिलाफ भारत की हुंकार 'हर घर दस्तक', इससे बढ़ रहा टीकाकरण कवरेज

ओमिक्रॉन के खिलाफ भारत की हुंकार 'हर घर दस्तक', इससे बढ़ रहा टीकाकरण कवरेज

सिलीगुड़ी में डोर-टू-डोर कोविड -19 टीकाकरण अभियान के दौरान स्वास्थ्य कार्यकर्ता. (फाइल फोटो)

सिलीगुड़ी में डोर-टू-डोर कोविड -19 टीकाकरण अभियान के दौरान स्वास्थ्य कार्यकर्ता. (फाइल फोटो)

Omicron in Karnataka, Corona Vaccination: भारत के कर्नाटक (Karnataka) में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट (Coronavirus New Variant) ओमिक्रॉन (Omicron) के मामलों की पुष्टि के बावजूद कुछ अच्‍छी खबरें भी हैं. सरकारी आंकड़ों से पता चलता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के नेतृत्‍व में केंद्र सरकार घर-घर टीकाकरण अभियान के जरिए लोगों को वैक्‍सीन लगा रही है. इस अभियान का नाम 'हर घर दस्‍तक' अभियान (Har ghar dastak) है. इससे ओमिक्रॉन की दहशत के बावजूद भारत का मनोबल बना रहेगा क्‍योंकि वह संकट से निपटने की तैयारी कर रहा है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. भारत के कर्नाटक (Karnataka) में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट (Coronavirus New Variant) ओमिक्रॉन (Omicron) के मामलों की पुष्टि के बावजूद कुछ अच्‍छी खबरें भी हैं. सरकारी आंकड़ों से पता चलता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के नेतृत्‍व में केंद्र सरकार घर-घर टीकाकरण अभियान के जरिए लोगों को वैक्‍सीन लगा रही है. इस अभियान का नाम   ‘हर घर दस्‍तक’ अभियान (Har ghar dastak)  है. इससे ओमिक्रॉन की दहशत के बावजूद भारत का मनोबल बना रहेगा क्‍योंकि वह संकट से निपटने की तैयारी कर रहा है और लोगों को वैक्‍सीन लगा रहा है. केंद्र सरकार ने टीकाकरण कवरेज बढ़ाने के लिए नवंबर में ‘हर घर दस्तक’ शुरू की थी.

    मीडिया के सामने पेश किए गए आंकड़ों के मुताबिक, इस अभियान के शुरू होने के बाद से कोरोना वैक्‍सीन की पहली खुराक कवरेज में 5.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई है जबकि दूसरी खुराक के कवरेज में 11.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. इस अभियान के तहत, स्वास्थ्य कार्यकर्ता लोगों को दूसरा डोज लगाने के लिए घरों का दौरा करते हैं. ऐसे में जिन्‍हें पहला डोज नहीं लगा है, उन्‍हें भी पहली खुराक दी जा रही है. इस अभियान का उद्देश्य जागरूकता बढ़ाना, संसाधनों को जुटाना और सभी पात्र लाभार्थियों का टीकाकरण करना है.

    ये भी पढ़ें :   ओमिक्रॉन की भारत में दस्तक, क्या वैक्सीनेशन प्रोग्राम में होगा बदलाव?, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

    ये भी पढ़ें :  ओमिक्रॉन का खौफ! आखिर मुंबई एयरपोर्ट आने से क्यों कतराने लगे हैं लोग, सामने आई बड़ी वजह

    सरकारी आंकड़ों के अनुसार देश में अब तक कोविड-19 टीकों की 125 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं. कोविड -19 टास्क फोर्स के प्रमुख और सदस्य, स्वास्थ्य, नीति आयोग के डॉ वीके पॉल ने कहा कि यह बहुत बड़ी उपलब्धि है जिसे भारत ने हासिल किया है. अब ‘हर घर दस्तक’ अभियान में शामिल कड़ी मेहनत रंग लाने लगी है. ये गति और बढ़नी चाहिए. उन्होंने कहा कि कोविड -19 और इसके प्रकारों के खिलाफ लड़ाई लड़ने में टीकाकरण सबसे महत्वपूर्ण है. हम भाग्यशाली हैं कि हमारे पास वह हथियार यानी वैक्‍सीन प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है और इसलिए, प्रत्येक व्यक्ति की रक्षा करनी चाहिए.

    राज्‍यों ने बढ़ाई गति, घर-घर पहुंच रहे हैं स्‍वास्‍थ्‍य कार्यकर्ता

    हर घर दस्‍तक अभियान शुरू होने के बाद से उत्तर प्रदेश में पहली खुराक कवरेज में लगभग 9 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जबकि पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ में कवरेज में लगभग 8 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. इसी तरह, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, जम्मू और कश्मीर के साथ-साथ गुजरात जैसे राज्यों में दूसरी खुराक के लिए कवरेज तेजी से बढ़ गया है. मध्य प्रदेश में, कार्यक्रम के शुरू होने के बाद से कवरेज में 25 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जिससे राज्य का कुल टीकाकरण कवरेज 60 प्रतिशत से अधिक हो गया है. हिमाचल प्रदेश में, कवरेज में 28.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जो कुल टीकाकरण कवरेज के करीब 92 प्रतिशत से अधिक है. आंकड़ों से पता चलता है कि पहली खुराक 79.16 करोड़ लोगों को दिया गया, जो कि वयस्क आबादी का 84 प्रतिशत से अधिक है. वहीं, दूसरी खुराक लगभग 46 करोड़ लोगों ने ली है, जो कि वयस्क आबादी का 49 प्रतिशत है.

    Tags: Coronavirus New Variant, Har ghar dastak, Karnataka, Omicron, Prime Minister Narendra Modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर