Home /News /nation /

आर्मी चीफ नरवणे के लद्दाख दौरे से पहले LAC पर भारत के फाइटर जेट ने भरी उड़ान

आर्मी चीफ नरवणे के लद्दाख दौरे से पहले LAC पर भारत के फाइटर जेट ने भरी उड़ान

चीन से तनाव के बीच लद्दाख में भारत के फाइटर जेट ने भरी उड़ान.

चीन से तनाव के बीच लद्दाख में भारत के फाइटर जेट ने भरी उड़ान.

फाइटर जेट (Fighter Jet) के जरिए भारत चीन (China) को बता देना चाहता है कि बातचीत का जो भी नतीजा निकले लेकिन भारतीय सेना (Indian Army) हर ​परिस्थिति के लिए पूरी तरह से तैयार है.

    नई दिल्ली. लद्दाख (Ladakh) की गलवान घाटी (Galwan Valley) में भारत और चीन की सेना के बीच हुई हिंसक झड़प (India China Faceoff) के बाद से दोनों देशों में तनाव चरम पर है. दोनों देशों के बीच बढ़े तनाव को कम करने के लिए सैन्य अधिकारियों की बातचीत चल रही है. इसी बीच खबर है कि आज आर्मी चीफ एमएम नरवणे (Manoj Mukund Naravan) लद्दाख का दौरा करेंगे. आर्मी चीफ के दौरे से पहले भारत के फाइटर जेट LAC पर उड़ान भरते दिखाई दे रहे हैं. फाइटर जेट (Fighter Jet) के जरिए भारत चीन को बता देना चाहता है कि बातचीत का जो भी नतीजा निकले लेकिन भारतीय सेना हर ​परिस्थिति के लिए पूरी तरह से तैयार है.

    बता दें कि आर्मी चीफ एमएम नरवणे लद्दाख का दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब दोनों देशों के सैन्य अधिकारी विवाद को खत्म करने के लिए बैठक कर रहे हैं. सोमवार देर रात बैठक खत्म होने के बाद आज सुबह लद्दाख में एक बार फिर भारत के लड़ाकू विमानों ने उड़ान भरी और चीन को अपनी ताकत का अहसास कराया. बता दें कि लद्दाख के दौरे में आर्मी चीफ 14वीं कोर के सैन्य अफसरों के साथ हालात का जायजा लेंगे. जनरल नरवणे चीन के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा और पाकिस्तान के साथ नियंत्रण रेखा के पास सुरक्षा बलों की तैयारियों की समीक्षा करेंगे.



    LAC पर जारी तनाव के बाद सोमवार को 12 घंटे चली सैन्य अधिकारियों की बातचीत में भारतीय सैन्य अधिकारियों ने चीनी सेना से पीछे हटने के लिए कहा है. भारत ने चीन से एलएसी से सैनिकों की वापसी के लिए समय सीमा मांगी.

    इसे भी पढ़ें :- India China Face-off: भारत ने कहा- LAC को लेकर नहीं माने जाएंगे चीन के अटपटे दावे

    वायुसेना किसी भी हालात से निपटने के लिए तैयार
    सेना ने बीते एक हफ्ते में सीमा से लगे अग्रिम ठिकानों पर हजारों अतिरिक्त जवानों को भेजा है. वायुसेना ने भी झड़प के बाद श्रीनगर और लेह समेत अपने कई अहम ठिकानों पर सुखोई 30 एमकेआई, जगुआर, मिराज 2000 लड़ाकू विमानों के साथ ही अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टरों की तैनाती की है. पूर्वी लद्दाख के गलवान और कुछ अन्य इलाकों में दोनों सेनाओं के बीच पांच मई से ही गतिरोध बना हुआ है जब पैंगोंग सो के किनारे दोनों पक्ष के सैनिकों में झड़प हुई थी.

    Tags: China, Galwan Valley, India, Indian army, Ladakh, Ladakh Border Dispute

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर