अपना शहर चुनें

States

भारत की पहली सी प्लेन सेवा अस्थायी तौर पर बंद, पीएम मोदी ने किया था उद्घाटन

भारत की पहली सी प्लेन सेवा अस्थायी तौर पर बंद
भारत की पहली सी प्लेन सेवा अस्थायी तौर पर बंद

सी प्लेन के रखरखाव संबंधी दिक्कतों के बाद इस सेवा को अस्थायी तौर पर बंद किया गया है. 19 सीटर सी प्लेन को आज मालदीव में वापस भेज दिया जाएगा. बता दें कि औपचारिक रूप से सी प्लेन की शुरुआत 1 नवंबर को हुई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2020, 11:26 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सरदार वल्लभ भाई पटेल (Sardar Vallabh Bhai Patel) की 145वीं जन्म तिथि के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केवड़िया से साबरमति एयरोड्रोम्स (Sabarmati Aerodromes) के लिए जिस सीप्लेन सेवा की शुरुआत की थी उसे अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है. सी प्लेन के रखरखाव संबंधी दिक्कतों के बाद इस सेवा को अस्थायी तौर पर बंद किया गया है. 19 सीटर सी प्लेन को आज मालदीव में वापस भेज दिया जाएगा.

बता दें कि औपचारिक रूप से सी प्लेन की शुरुआत 1 नवंबर को हुई थी. सी प्लेन सेवा में सफर करने के लिए केवड़िया और अहमदाबद में वाटरड्रोम पर टिकट की व्यवस्था की गई थी. इस विमान सेवा का लाभ उठाने के लिए 1500 रुपये किराया देना पड़ता है. इस विमान में किराया तय कोटे के तहत होता है और इसका अधिकतम किराया 4800 रुपये प्रति व्यक्ति होता है.

इस सेवा के जरिए अहमदाबाद और केवड़िया में साबरमति रोवर फ्रंट की 200 किमी की दूरी को कम समय में पूरी किया जा सकेगा. पहले सड़क मार्ग के जरिए इस दूरी को तय करने में 4 घंटे का वक्त लगता था, लेकिन हवाई जहाज के जरिए इसे 45 मिनट में पूरा कर लिया जाएगा.



इसे भी पढ़ें : ‘सी-प्लेन’ सेवाओं के लिए 14 और वॉटर बेस बनाने की तैयारी कर रही है सरकार
क्या होता है सी-प्लेन
सरकार की योजना से लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार, असम, महाराष्ट्र और उत्तराखंड में इस सेवा का लाभ मिलने की संभावना है. अब जानते हैं कि सी-प्लेन क्या होता है? दरअसल यह एक तरह का हवाई जहाज होता है, जिसे उड़ान भरने के लिए रनवे की जरूरत नहीं होती. यह जहाज पानी से भी टेक ऑफ और लैंडिंग कर सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज