• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • नौसेना को सौंपे गए मानवरहित यानों के लिए स्वदेश विकसित लैंडिंग गियर

नौसेना को सौंपे गए मानवरहित यानों के लिए स्वदेश विकसित लैंडिंग गियर

लैंडिंग गियर प्रणालियों के अलावा स्वदेश विकसित 18 अत्याधुनिक हाइड्रोलिक लुब्रिकेशन और फ्यूल फिल्टर भी नौसेना को सौंप गए (तस्वीर: @indiannavy)

लैंडिंग गियर प्रणालियों के अलावा स्वदेश विकसित 18 अत्याधुनिक हाइड्रोलिक लुब्रिकेशन और फ्यूल फिल्टर भी नौसेना को सौंप गए (तस्वीर: @indiannavy)

Unmanned Vehicles Assigned to Navy: डीआरडीओ के अध्यक्ष जी सतीश रेड्डी ने सीवीआरडीई को बधाई देते हुए कहा कि यह अहम उपलब्धि है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (Defense Research and Development Organization) की इकाई कॉम्बैट व्हिकल्स रिसर्च ऐंड डेवपलमेंट एस्टेबलिशमेंट (Combat Vehicle Research and Development Establishment) द्वारा मानवरहित यान के लिए स्वदेश विकसित एवं अलग हो सकने वाली लैंडिंग गियर प्रणाली रविवार को नौसेना को सौंपी गई.

    बख्तरबंद वाहनों और जंगी प्रणालियों के डिजाइन एवं विकास का काम करने वाले सीवीआरडीई (CVRDE) की ओर से कहा गया कि केंद्र के आत्मनिर्भर कार्यक्रम (Atmanirbhar Program) के तहत उसने मानवरहित यान ‘तापस’ के लिए तीन टन वजनी ‘रिट्रेक्टेबल लैंडिंग गियर सिस्टम्स’ का निर्माण किया है तथा स्विफ्ट यूएवी के लिए एक टन की लैंडिंग गियर प्रणाली बनाई है.

    ये भी पढ़ें- जम्‍मू-कश्‍मीर: पुलवामा में लश्कर के ठिकाने का भंडाफोड़, एक मददगार गिरफ्तार

    एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया कि गियर प्रणालियां उपनगर अवाडी में स्थित सीवीआरडीई के प्रतिष्ठान में विकसित की गईं.

    मेक इन इंडिया पहल के तहत किया गया है निर्माण
    इस अवसर पर डीआरडीओ के अध्यक्ष जी सतीश रेड्डी ने सीवीआरडीई को बधाई देते हुए कहा कि यह अहम उपलब्धि है.

    लैंडिंग गियर प्रणालियों के अलावा स्वदेश विकसित 18 अत्याधुनिक हाइड्रोलिक लुब्रिकेशन और फ्यूल फिल्टर भी नौसेना को सौंप गए.

    ये भी पढ़ें- कर्नाटक: 1 साल से लटका है कैबिनेट विस्‍तार, येडियुरप्‍पा फिर बोले- फेरबदल जल्द

    विज्ञप्ति में बताया गया कि इनका निर्माण केंद्र की ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत किया गया तथा इनके लिए धन डीआरडीओ तथा नौसेना ने उपलब्ध करवाया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन