भारत और फ्रांस की सेनाओं ने किया संयुक्त युद्धाभ्यास, राफेल की दिखी खूबी

भारतीय वायुसेना के अनुसार भारत-फ्रांस के संयुक्त अभ्यास का उद्देश्य दोनों वायु सेनाओं के बीच अंतर व्यवहार्यता और सहयोग बढ़ाने के लिए अच्छी प्रथाओं का साझा करना है.

News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 3:09 PM IST
भारत और फ्रांस की सेनाओं ने किया संयुक्त युद्धाभ्यास, राफेल की दिखी खूबी
फ्रांस के मोंट-डे-मारसन में भारत और फ्रांस की वायुसेना द्विपक्षीय युद्धाभ्यास कर रही हैं. (सांकेतिक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 3:09 PM IST
फ्रांस के मोंट-डे-मारसन में भारत और फ्रांस की वायुसेना द्विपक्षीय युद्धाभ्यास कर रही हैं. यह युद्धाभ्यास 1 जुलाई से शुरू हुआ जो 12 जुलाई तक चलेगा. युद्धाभ्यास में भारत ने जहां अपने रणकौशल को निखारा वहीं अपनी युद्धक क्षमताओं को भी परखा. भारतीय सेना के स्क्वाड्रन लीडर सौरभ एम्बुरे ने फ्रांस के राफेल विमान में उड़ान भरी.

गौरतलब है कि इस साल के अंत तक भारत को 36 राफेल विमानों की डिलेवरी शुरू हो जाएगी.

ये है संयुक्त युद्धाभ्यास का उद्देश्य

भारतीय वायुसेना के अनुसार भारत-फ्रांस के संयुक्त अभ्यास का उद्देश्य दोनों वायु सेनाओं के बीच अंतर व्यवहार्यता और सहयोग बढ़ाने के लिए अच्छी प्रथाओं का साझा करना है.



इन विमानों से हो रहा है युद्धाभ्यास

इस युद्धाभ्यास में चार एसयू-30 एमकेआई, फ्यूल रिफिलर आईएल-78, सी-17 ग्लोबमास्टर एयरक्राफ्ट के साथ कुल 120 पायलट अभ्यास में भाग ले रहे हैं, जिसमें गरुड़ कमांडो का दस्ता भी शामिल है.
Loading...

ये भी पढ़ें: भारत ने रूस से की 200 करोड़ की एंटी टैंक मिसाइल डील
First published: July 5, 2019, 3:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...