अपना शहर चुनें

States

शीना बोरा हत्याकांड में दोषी इन्द्राणी मुखर्जी की हालत स्थिर, कोई गंभीर बीमारी नहीं

जेल के अधिकारियों ने बताया कि इन्द्राणी मुखर्जी की चिकित्सकीय हालत स्थिर है
जेल के अधिकारियों ने बताया कि इन्द्राणी मुखर्जी की चिकित्सकीय हालत स्थिर है

Sheena Bora murder case: बहुचर्चित शीना बोरा हत्‍याकांड में दोषी और भायखला महिला जेल में बंद इंद्राणी मुखर्जी को कोई बीमारी नहीं है और उसकी चिकित्‍सकीय हालत स्थिर है. जेल अधिकारियों ने बंबई हाई कोर्ट को यह जानकारी दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2021, 10:21 PM IST
  • Share this:
मुंबई. भायखला महिला जेल के अधिकारियों ने सोमवार को बंबई उच्च न्यायालय को बताया कि शीना बोरा हत्याकांड (Sheena Bora Murder Case) में दोषी इन्द्राणी मुखर्जी (Indrani Mukherjees) की चिकित्सकीय हालत स्थिर है और उन्हें कोई गंभीर बीमारी नहीं है. अदालत के निर्देश पर इस महीने की शुरुआत में जेल अधिकारियों की ओर से एक रिपोर्ट सौंपी गई थी. मुखर्जी द्वारा चिकित्सा के आधार पर दायर की गई जमानत याचिका पर अदालत सुनवाई कर रही थी. वह अगस्त 2015 से भायखला महिला कारागार में बंद हैं.

न्यायमूर्ति पी डी नाइक की एकल पीठ के समक्ष सोमवार को सौंपी गई जेल रिपोर्ट के अनुसार, मुखर्जी को ऐसी गंभीर बीमारी नहीं है, जिसका इलाज जेल में नहीं किया जा सकता. रिपोर्ट के अनुसार मुखर्जी को दो बार जे जे अस्पताल ले जाया गया और उनकी रिपोर्ट में सब कुछ सामान्य था. अदालत ने रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद सीबीआई को दो सप्ताह में जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया और मामले की सुनवाई की अगली तारीख आठ मार्च तय की.

ये भी पढ़ेंः शीना बोरा मर्डर केस: सीबीआई ने की कोर्ट से जल्दी सुनवाई की मांग



बता दें कि साल 2012 में 24 अप्रैल को शीना बोरा की हत्या कर दी गई थी, लेकिन मामले का खुलासा 2015 में हुआ जब इंद्राणी के ड्राइवर श्याम राय को हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया.
ये भी पढ़ें: जेल में बंद इंद्राणी और पीटर मुखर्जी के तलाक को फैमिली कोर्ट की मंजूरी

'बड़ी ही बेरहमी से अपनी बेटी को मौत के घाट उतारा'

इंद्राणी पर आरोप है कि उसने अपने पूर्व पति संजीव खन्ना और ड्राइवर श्याम राय के साथ मिलकर इंद्राणी की पूर्व शादी से हुई बेटी शीना की हत्या कर दी थी. 25 अप्रैल को उसकी लाश को डिस्पोज कर दिया गया. पुलिस सूत्रों ने बताया था कि शीना की मां इंद्राणी मुखर्जी ने बड़ी ही बेरहमी से अपनी बेटी को मौत के घाट उतारा था. इंद्राणी के ड्राइवर श्याम राय ने पुलिस पूछताछ में बताया था कि शीना को मौत के घाट उतारते वक्त इंद्राणी बार बार उसे कह रही थी कि अब ले बांद्रा में 3 बीएचके फ्लैट.

दावा था कि शीना अपनी मां इंद्राणी को ब्लैकमेल कर रही थी. शीना मुंबई के बांद्रा में एक फ्लैट मांग रही थी. इसी के चलते इंद्राणी ने शीना को अपने रास्ते से हटाया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज