घाटी में आतंक फैलाने की रच रहा साजिश पाकिस्‍तान, कश्मीरी युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण

पड़ोसी मुल्‍क की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) ने 150 से ज्‍यादा युवाओं को कुछ दिन पहले प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया है. पाक अधिकृत कश्‍मीर (PoK) के इन युवाओं को भारत में घुसपैठ कराकर आतंक फैलाने की है साजिश.

News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 11:50 PM IST
घाटी में आतंक फैलाने की रच रहा साजिश पाकिस्‍तान, कश्मीरी युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण
आईएसआई (ISI) 150 युवाओं को आतंक का प्रशिक्षण देने के बाद भारत में घुसपैठ कराकर कश्‍मीर में आतंक फैलाना चाहता है.
News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 11:50 PM IST
पाकिस्‍तान (Pakistan) जम्‍मू-कश्‍मीर (jammu-Kashmir) से अनुच्‍छेद-370 (Article-370) हटाए जाने से इतना बौखला गया है कि अब भारत में आतंक फैलाने की साजिश रच रहा है. पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) पाक अधिकृत कश्‍मीर (Pok) के 150 युवाओं को आतंक का प्रशिक्षण दे रही है. इन युवाओं का प्रशिक्षण हाल ही में शुरू किया गया है. पाकिस्‍तान इन युवाओं को भारत में घुसपैठ कराकर कश्‍मीर में आतंक फैलाना चाहता है.

अपनी छवि साफ रखना चाहता है पाकिस्‍तान
सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान कश्मीर में कश्मीरी युवाओं से ही हिंसा कराना चाहता है ताकि दुनिया के सामने उसकी छवि साफ-सुथरी बनी रही. साथ ही वह पूरी दुनिया से कह सके कि अनुच्‍छेद-370 हटने और मोदी सरकार में आम कश्‍मीरी परेशान होकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, आईएसआई पाकिस्तान के दूसरे हिस्सों के युवाओं को आतंक की ट्रेनिंग न देकर पाक अधिकृत कश्मीर के युवाओं को लालच देकर, धमकाकर या बरगलाकर यह काम करवा रही है.

दूर-दराज के इलाकों में नहीं है कोई भी दिक्‍कत

भारतीय सेना (Indian Army) के एक अधिकारी ने कहा कि हम घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. जम्मू-कश्मीर को लेकर किए गए केंद्र सरकार के फैसले के बाद पहला शुक्रवार पड़ रहा है. लोग नमाज के लिए बाहर निकलेंगे. सुरक्षा एजेंसी के एक अधिकारी ने बताया कि गुरुवार की रिपोर्ट के आधार पर शुक्रवार को ढील देने लायक इलाकों तय किया जाएगा. साथ ही देखा जाएगा कि कितनी ढील देनी है. उन्होंने कहा कि दूर-दराज के इलाकों में कोई दिक्कत नहीं है. गड़बड़ी की आशंका वाली जगहों पर ज्यादा मुस्तैदी और ज्यादा सुरक्षाबलों को तैनात किया जाएगा.

COB में लोगों को दी जा रही फ्री मेडिकल हेल्‍प
कश्मीर में सेना के कंपनी ऑपरेटिंग बेस (COB) संपर्क करने से लेकर दवाई लेने तक के वन स्टॉप सेंटर बने हैं. सेना के एक अधिकारी के मुताबिक, सीओबी में आने वालों को फ्री मेडिकल हेल्प दी जा रही है. कोई बाहर अपने परिजनों से इमर्जेंसी में बात करना चाह रहा है तो सेटलाइट फोन से बात कराई जा रही है. घाटी में सेना के 100 से ज्यादा सीओबी हैं. कोई भी मेडिकल स्टोर या अस्‍पताल बंद नहीं है. एयरपोर्ट के पास को सिक्यॉरिटी पास की तरह माना जा रहा है. जिसके पास है, उनकी आवाजाही में कोई दिक्कत नहीं हो रही है.
Loading...

ये भी पढ़ें:

PM Modi ने कहा, अनुच्‍छेद-370 हटने से जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों को मिलेगा रोजगार, 10 खास बातें

PM मोदी ने राष्‍ट्र के नाम संबोधन में परिवारवाद की सियासत पर साधा निशाना
First published: August 8, 2019, 11:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...