श्रीनगर में 34 घंटों बाद खत्म हुआ एनकाउंटर, दोनों आतंकी ढेर

सीआरपीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बल आतंकवादियों पर अंतिम हमले की तैयारी कर रहे थे, तभी उधर से दोबारा गोलीबारी शुरू हो गई.

News18Hindi
Updated: February 13, 2018, 3:33 PM IST
श्रीनगर में 34 घंटों बाद खत्म हुआ एनकाउंटर, दोनों आतंकी ढेर
सीआरपीएफ कैंप के पास एक इमारत में कुछ आतंकी अब भी छिपे हुए हैं.
News18Hindi
Updated: February 13, 2018, 3:33 PM IST
जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में करन नगर इलाके की एक इमारत में छिपे दोनों आतंकवादियों को मार गिराया है. सैन्य अधिकारियों ने मंगलवार दोपहर यह जानकारी दी. पिछले 34 मुठभेड़ से जारी इस मुठभेड़ में एक आतंकवादी को मंगलवार सुबह मारा गया था. फिलहाल वहां तलाशी अभियान जारी है.

इस मुठभेड़ के खत्म होने के बाद कश्मीर के आईजी एसपी पणि ने कहा, 'दो आतंकवादी मारे गए हैं. उसके पास से भारी मात्रा में हथियार और गोलियां बरामद हुई हैं. यह हमला लश्कर ए तैयबा के धड़े ने किया था. इस मुठभेड़ में एक सीआरपीएफ जवान घायल हुआ है, लेकिन खतरे से बाहर है.'



प्राप्त जानकारी के मुताबिक, करन नगर में सीआरपीएफ कैंप पर हमले के बाद ये आतंकी पास की एक इमारत में छिप गए थे. सीआरपीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि रात भर की शांति के बाद आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मंगलवार तड़के फिर से मुठभेड़ शुरू हो गई. उन्होंने बताया कि सुरक्षा बल आतंकवादियों पर अंतिम हमले की तैयारी कर रहे थे, तभी उधर से दोबारा गोलीबारी शुरू हो गई.
Loading...
इससे पहले सोमवार को हुई गोलीबारी में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद और एक पुलिसकर्मी घायल हो गया था. सीआरपीएफ ने दावा किया कि उसने करण नगर इलाके में अर्धसैनिक बल के शिविर पर आतंकवादी हमले के प्रयास को विफल कर दिया.

यह घटना जम्मू के सुंजवान इलाके में आर्मी कैंप पर आतंकियों के हमले के दो दिन के बाद हई. इस बीच सेना फिलहाल जम्मू में छिपे संदिग्ध आतंकियों के सफाये का अभियान चला रही है. हालांकि वहां आतंकियों के हमले रुकने का नाम नहीं ले रहे.

सुंजवान और श्रीनगर में सुरक्षाबलों के शिविर पर हमले के बाद मंगलवार को संदिग्ध आतंकवादियों ने जम्मू में सेना के एक शिविर पर हमले की कोशिश की. हालांकि सुरक्षाबलों ने इस हमले को विफल कर दिया.



जम्मू के रायपुर डोमाना इलाके में भी आतंकियों ने सेना के एक शिविर पर हमले की कोशिश की. हालांकि सुरक्षाबलों ने उनकी कोशिश नाकाम कर दी, जिससे बाद वे मौके से फरार हो गए.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि माना जा रहा है कि मोटरसाइकिल पर सवार दो आतंकवादी सुबह साढ़े चार बजे जम्मू-अखनूर मार्ग पर दोमाना कैंप के मुख्य द्वार तक पहुंच गए थे. सुरक्षा अधिकारियों ने उन्हें रुकने का संकेत दिया, तो उन्होंने संतरी चौकी पर गोली चला दी, जिसके बाद सुरक्षा अधिकारियों ने जवाबी कार्रवाई की. अधिकारी ने बताया, 'जांच शुरू कर दी गई है और फरार आतंकवादियों का पता लगाने के लिए एक तलाशी अभियान जारी है.' इसके साथ साथ ही उन्होंने बताया कि इलाके में अलर्ट जारी कर दिया गया है.

उधर, सुंजवान आर्मी कैंप से एक और जवान का शव मिला है, जिससे सुंजवान हमले में शहीद हुए जवानों की बढ़कर छह तक पहुंच गई. इस हमले में शामिल तीन आतंकियों को मार गिराया गया, वहीं आतंकियों के हमले में एक आम नागरिक की भी मौत हो गई.

बता दें कि  जम्मू से सटे सुंजवान आर्मी कैंप पर हमले के बाद आतंकियों ने सोमवार सुबह श्रीनगर के करण नगर में सीआरपीएफ कैंप पर हमले की कोशिश की. हालांकि कैंप के बाहर मौजूद संतरी ने बहादुरी और तत्‍परता दिखाते हुए आतंकियों की कोशिश को नाकाम कर दिया.

सुंजवान में आर्मी कैंप और श्रीनगर में सीपीआरपी कैंप पर इन हमलों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा ने ली है. (एजेंसी इनपुट के साथ)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर