कुलभूषण जाधव मामले में ICJ बुधवार को सुनाएगा फैसला, भारत की जीत पक्‍की!

इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस बुधवार शाम 6:30 बजे कुलभूषण जाधव पर अपना फैसला सुनाएगा.

Shailendra Wangu | News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 5:47 PM IST
कुलभूषण जाधव मामले में ICJ बुधवार को सुनाएगा फैसला, भारत की जीत पक्‍की!
कुलभूषण जाधव मामले में भारत को मिलेगी जीत! (फाइल फोटो)
Shailendra Wangu | News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 5:47 PM IST
कुलभूषण जाधव को लेकर बुधवार शाम इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) अपना फैसला सुनाएगा. पूरे देश की नजरें इस फैसले पर रहेंगी, जो शाम 6:30 बजे सामने आएगा. पाकिस्तान ने जाधव को अभी तक कांसुलर एक्सेस नहीं दी है. इसी मामले को लेकर भारत ने 2017 में अंतरराष्ट्रीय कोर्ट का रुख किया था. ICJ (International Court of Justice) में भारत-पाक की करीब दो साल की लंबी लड़ाई के बाद कुलभूषण जाधव पर अंतरराष्ट्रीय कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा. जबकि इस मामले में आखरी सुनवाई इस साल 18 से 21 फरवरी तक हुई थी.

भारत ने मजबूती से रखा अपना पक्ष
भारत ने ICJ में अपना पक्ष मजबूती से रखते हुए कहा कि जाधव को ईरान से पाक एजेंसियों ने अगवा कर जासूसी का झूठा आरोप लगाया है. यही नहीं, भारत ने कोर्ट में कहा है कि पाकिस्तान ने अभी तक जाधव की कांसुलर एक्सेस नहीं दी जो कि वियना कन्वेंशन के खिलाफ है. जाधव को पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने मौत की सज़ा सुनाई है, जिस पर ICJ ने भारत के आग्रह पर रोक लगा दी थी. कल कोर्ट के फैसले से तय होगा कि कुलभूषण जाधव की रिहाई होगी या नहीं. भारत ने यह भी कहा कि कुलभूषण जाधव के ट्रायल में पारदर्शिता नहीं थी. हालांकि कानूनी जानकारों को उम्मीद है कि फैसला भारत के पक्ष में आएगा.

पाकिस्‍तान ने दी ये दलील

ICJ में कुलभूषण जाधव मामले में 19 फरवरी को पाकिस्तान के एटॉर्नी जनरल अनवर मंसूर खान ने पाकिस्तान का पक्ष रखा था. खान ने आईसीजे में दलील दी थी कि जाधव भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ के अधिकारी हैं. पाक ने दावा किया था कि RAW ने कुलभूषण को बलूचिस्तान में हमला करवाने के लिए भेजा था.

क्‍या पाकिस्‍तान अपना दावा कोर्ट में कर पाएगा साबित?
बीते 3 सालों में कुलभूषण जाधव के नाम पर पाकिस्तान ने अपना प्रोपगंडा भी चलाया. जानबूझकर कई बार जाधव के वीडियो जारी किए गए और उन्हें बलूचिस्तान में भारतीय दखल के अपने झूठे दावे के सबूत के तौर पर पेश किया. बुधवार को होने वाली सुनवाई के लिए भारत और पाकिस्तान ने अपनी-अपनी टीम भेजी है. हालांकि कानून के जानकार मानते हैं कि पाकिस्‍तान कोर्ट में अपना दावा साबित नहीं कर पाएगा. यही वजह है कि हर कोई जाधव मामले में भारत की जीत देख रहा है.
Loading...

कुलभूषण मामले में कब क्या हुआ?
25 मार्च 2016: भारत को जाधव की हिरासत की जानकारी मिली.
11 अप्रैल 2017: पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने जाधव को मौत की सज़ा सुनाई.
8 मई 2017: भारत ने आईसीजे का दरवाज़ा खटखटाया.
15 मई 2017: मामले में सुनवाई हुई.
18 मई 2017: आईसीजे ने फांसी पर रोक लगाई.
25 दिसंबर 2017: जाधव की मां और पत्नी ने पाक जाकर जाधव से मुलाकात की.
28 दिसंबर 2017: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस मुलाकात की जानकारी संसद को दी.
19 फरवरी 2019 को हुई थी सुनवाई
17 जुलाई: जाधव मामले में फैसले का दिन.

ये भी पढ़ें- कश्मीर घाटी ने देश को दिए आतंकियों से 100 गुना ज्यादा रक्षक

बर्फीले तूफान में यूं चली गई पर्वतारोहियों की जान! पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हुआ खुलासा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 16, 2019, 4:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...