क्या पाकिस्तान की जेल से रिहा होंगे कुलभूषण जाधव, इंटरनेशनल कोर्ट आज सुनाएगा फैसला

नीदरलैंड स्थित द हेग के पीस पैलेस में बुधवार को भारतीय समयानुसार शाम साढ़े छह बजे सार्वजनिक सुनवाई होगी.

News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 8:33 AM IST
क्या पाकिस्तान की जेल से रिहा होंगे कुलभूषण जाधव, इंटरनेशनल कोर्ट आज सुनाएगा फैसला
कुलभूषण जाधव (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 8:33 AM IST
इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) बुधवार को भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव के मामले में अपना फैसला सुनाएगा. शाम 6:30 बजे कोर्ट का फैसला सामने आएगा. इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले पर पूरे देश की नजरें रहेंगी. मालूम हो कि कुलभूषण जाधव को अप्रैल 2017 में जासूसी और आतंकवाद के आरोप में पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने मौत की सजा सुनाई थी. हालांकि, उनकी सजा के एलान पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी. इसके बाद भारत ने अंतरराष्ट्रीय कोर्ट का रुख किया था. अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में करीब दो साल तक भारत ने लड़ाई लड़ी. इस मामले में आखरी सुनवाई इसी साल 18 से 21 फरवरी तक हुई थी.

भारतीय समयानुसार शाम साढ़े छह बजे सार्वजनिक होगी सुनवाई
नीदरलैंड स्थित द हेग के पीस पैलेस में बुधवार को भारतीय समयानुसार शाम साढ़े छह बजे सार्वजनिक सुनवाई होगी. अदालत के प्रमुख न्यायाधीश अब्दुलकावी अहमद यूसुफ फैसला पढ़कर सुनाएंगे. दरअसल, इस चर्चित मामले में फैसला आने से करीब पांच महीने पहले न्यायाधीश यूसुफ की अध्यक्षता वाली आईसीजे की 15 सदस्यीय पीठ ने भारत और पाकिस्तान की मौखिक दलीलें सुनने के बाद 21 फरवरी को अपना फैसला सुरक्षित रखा था.

पाकिस्तान ने इस मामले में अपना पक्ष जोरदार तरीके से रखा है

बता दें कि पिछले हफ्ते पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा था कि उनका देश जाधव मामले में आईसीजे के फैसले का ''पूर्वानुमान नहीं लगा सकता. हालांकि, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने आईसीजे में इस मामले में अपना पक्ष जोरदार तरीके से रखा है. भारत ने नई दिल्ली को जाधव तक राजनयिक पहुंच देने से बार बार इंकार करके पाकिस्तान द्वारा वियना संधि के प्रावधानों का ''खुलेआम उल्लंघन के लिए आठ मई 2017 को आईसीजे का दरवाजा खटखटाया था.

जाधव को ईरान से पाक एजेंसियों ने अगवा कर जासूसी का झूठा आरोप लगाया
वहीं, भारत ने ICJ में अपना पक्ष मजबूती से रखते हुए कहा था कि जाधव को ईरान से पाक एजेंसियों ने अगवा कर जासूसी का झूठा आरोप लगाया है. यही नहीं, भारत ने कोर्ट में कहा कि पाकिस्तान ने अभी तक जाधव की कांसुलर एक्सेस नहीं दी जो कि वियना कन्वेंशन के खिलाफ है. जाधव को पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने मौत की सज़ा सुनाई है, जिस पर ICJ ने भारत के आग्रह पर रोक लगा दी थी. कल कोर्ट के फैसले से तय होगा कि कुलभूषण जाधव की रिहाई होगी या नहीं. भारत ने यह भी कहा कि कुलभूषण जाधव के ट्रायल में पारदर्शिता नहीं थी. हालांकि कानूनी जानकारों को उम्मीद है कि फैसला भारत के पक्ष में आएगा.
Loading...

ये भी पढ़ें- 

स्वतंत्रदेव सिंह बोले- मेरा सपना गरीबों का कल्याण करना

समाजवादी पार्टी के लिए कोढ़ हैं आजम खान: नरेश अग्रवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 17, 2019, 4:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...