देश

  • associate partner

IPL 2020: बीसीसीआई ने लगाया था बैन, अब बना कोलकाता नाइट राइडर्स का कोचिंग स्टाफ

IPL 2020: बीसीसीआई ने लगाया था बैन, अब बना कोलकाता नाइट राइडर्स का कोचिंग स्टाफ
प्रवीण तांबे

IPL 2020: प्रवीण तांबे (Pravin Tambe) को बीसीसीआई ने आईपीएल 2020 में खेलने के लिए बैन किया हुआ है. 48 साल के इस गेंदबाज को केकेआर ने 20 लाख रुपये के बेस प्राइस पर खरीदा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 14, 2020, 8:50 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली.  कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के स्पिनर प्रवीण तांबे (Pravin Tambe) इस बार आईपीएल में खिलाड़ी के तौर पर नहीं खेल पाएंगे. लेकिन उन्हें टीम में कोचिंग स्टाफ के तौर पर शामिल कर लिया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक टीम के सीईओ वेंकी मैसूर ने इस बात की पुष्टि कर दी है. उनका कहना है कि तांबे में गजब की एनर्जी है. हाल ही में तांबे ने कैरेबियन प्रीमियर लीग (CPL 2020) में अच्छा प्रदर्शन किया था. लेकिन बीसीसीाई ने उन्हें नियमों का उल्लंघन करने के चलते आईपीएल में खेलने की इजाजत नहीं दी.

KKR के सीईओ के मुताबिक टीम और फैंस में उनकी भारी डिमांड है लेकिन नियमों के चलते उन्हें खिलाड़ी के तौर पर शामिल नहीं किया जा सकता है. लेकिन वो केकेआर के कोचिंग स्टाफ होंगे. ब्रैंडन मैक्कलम टीम के मुख कोच हैं. बता दें कि पिछले हफ्ते खत्म हुए कैरेबियन प्रीमियर लीग में प्रवीण तांबे ने ज़ोरदार प्रदर्शन किया था. वो ट्रिनबैगो नाइट राइडर्स की तरफ से खेल रहे थे. वैसे तो तांबे ने तीन मैचों में सिर्फ 3 विकेट लिए थे, लेकिन उन्होंने बेहद किफायती गेंदबाजी की थी. उन्होंने सिर्फ 4 की इकॉनमी रेट से गेंदबाजी की थी. उनकी टीम में किसी की भी इतनी अच्छी इकॉनमी रेट नहीं रही.

कैसे फंस गए तांबे?
प्रवीण तांबे को बीसीसीआई ने आईपीएल 2020 में खेलने के लिए बैन किया हुआ है. 48 साल के इस गेंदबाज को केकेआर ने 20 लाख रुपये के बेस प्राइस पर खरीदा था. लेकिन शारजाह में हुई टी10 लीग में हिस्सा लेने के चलते उन्हें आईपीएल से बाहर कर दिया गया. दरअसल प्रवीण तांबे ने 2018 में संन्यास ले लिया था जिसकी जानकारी उन्होंने मुंबई क्रिकेट संघ को दी थी. इसके बाद वो शारजाह में टी10 लीग खेले. हालांकि टूर्नामेंट के बाद उन्होंने संन्यास से वापसी की थी औऱ फिर मुंबई लीग में हिस्सा लिया था.
ये भी पढ़ें:- श्रीसंत पर लगा 7 साल का बैन खत्म, आज से क्रिकेट के मैदान पर कर सकते हैं वापसी



क्या कहता है बीसीसीआई का नियम?
बीसीसीआई के नियमों के मुताबिक कोई भी भारतीय खिलाड़ी बिना क्रिकेट से संन्यास लिए किसी और देश के क्रिकेट बोर्ड की ओर से आयोजित लीग में नहीं खेल सकता है. बता दें कि युवराज सिंह और वीरेंद्र सहवाग जैसे खिलाड़ी संन्यास लेने के बाद विदेश में लीग मैचों का हिस्सा बने थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज