मुंबई में IPL सट्टेबाजी गिरोह का पर्दाफाश, पुलिस ने 5 लोगों को किया गिरफ्तार

गिरफ्तार किए गए आरोपी ना सिर्फ आईपीएल मैचों पर सट्टेबाजी कर रहे थे बल्कि सट्टेबाजी के बहाने लोगों से ठगी को भी अंजाम दे रहे थे. (सांकेतिक तस्वीर)

गिरफ्तार किए गए आरोपी ना सिर्फ आईपीएल मैचों पर सट्टेबाजी कर रहे थे बल्कि सट्टेबाजी के बहाने लोगों से ठगी को भी अंजाम दे रहे थे. (सांकेतिक तस्वीर)

इस मामले में मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने 5 सट्टेबाजों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से बड़ी मात्रा में कैश सहित तमाम चीजें बरामद की हैं.

  • Last Updated: April 19, 2021, 8:57 PM IST
  • Share this:
मुंबई. पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई करते हुए मुंबई (Mumbai) के लोअर परेल इलाके में आईपीएल मैचों (IPL Matches) पर सट्टेबाजी (Betting) कर रहे एक गिरोह का पर्दाफाश किया है. इस मामले में मुंबई पुलिस ने 5 सट्टेबाजों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से बड़ी मात्रा में कैश सहित तमाम चीजें बरामद की हैं. मुंबई पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक यह सट्टेबाजी अवैध वेबसाइटों के जरिए की जा रही थी. इतना ही नहीं इस सट्टेबाजी के बहाने लोगों से बड़ी ठगी को अंजाम दिया जा रहा था.

मुंबई पुलिस के आला अधिकारियों के मुताबिक उन्हें अपने सूत्रों से जानकारी मिली थी कि लोअर परेल के सेंट रेजिस होटल में आईपीएल मैचों में सट्टेबाजी करने का काम एक गिरोह कर रहा है. इस जानकारी के बाद मुंबई पुलिस के आला अधिकारियों ने एक टीम का गठन किया और होटल के कमरे में छापा मारा.

दस लाख रुपये कैश, 8 मोबाइल फोन, एक लैपटॉप और एक ऑडी कार बरामद

छापेमारी के दौरान सामने आया कि दो पुरुष और एक महिला एक वेबसाइट के जरिए न सिर्फ लैपटॉप पर आईपीएल मैच देख रहे थे, बल्कि उस मैच में खेल रहे खिलाड़ियों पर सट्टेबाजी भी चल रही थी. पुलिस की छापेमारी के बाद आईपीएल मैचों पर सट्टेबाजी कर रहे आरोपी हड़बड़ा गए लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और उनके पास से करीब दस लाख रुपये कैश, 8 मोबाइल फोन, एक लैपटॉप और एक ऑडी कार सहित कई अन्य चीजें बरामद की हैं. गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम प्रवेश बाफना, चेतन सालेचा, आयुषी केसरकर, किरण शाह और राजेश जैन है.
सट्टेबाजी के साथ ही लोगों को ठगी का शिकार भी बनाया जा रहा था

पुलिस ने जब इस पूरे मामले की जांच की तो पाया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी न सिर्फ आईपीएल मैचों पर सट्टेबाजी कर रहे थे बल्कि सट्टेबाजी के बहाने लोगों से ठगी को भी अंजाम दे रहे थे. प्राथमिक जांच में यह भी सामने आया है कि यह गिरोह जबसे आईपीएल टूर्नामेंट शुरू हुआ है तब से कई लोगों को ठगी का शिकार भी बना चुका है. फिलहाल इस पूरे मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही है और आने वाले दिनों में कुछ और गिरफ्तारियां हो सकती हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज