पांच करोड़ अकाउंट्स की सुरक्षा को लेकर आयरलैंड ने शुरू की फेसबुक की जांच

यह कदम ऐसे समय में आया है जब पिछले शुक्रवार को सोशल मीडिया कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में सुरक्षा उल्लंघन की बात स्वीकारी थी.
यह कदम ऐसे समय में आया है जब पिछले शुक्रवार को सोशल मीडिया कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में सुरक्षा उल्लंघन की बात स्वीकारी थी.

यह कदम ऐसे समय में आया है जब पिछले शुक्रवार को सोशल मीडिया कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में सुरक्षा उल्लंघन की बात स्वीकारी थी.

  • Share this:
आयरलैंड के डेटा कंजर्वेशन अथॉरिटी ने 5 करोड़ अकाउंट्स की सुरक्षा को लेकर मापदंडों का उल्लंघन होने की बात का चलने के बाद फेसबुक की जांच शुरू कर दी है. बुधवार को उठाया गया यह कदम ऐसे समय में आया है जब पिछले शुक्रवार को सोशल मीडिया कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में सुरक्षा उल्लंघन की बात स्वीकारी थी. उसने कहा था कि हैकर्स ने सितंबर में वेबसाइट के कोड की सुरक्षा को भेद दिया था जिससे उन्हें लोगों के अकाउन्ट तक पहुंच मिल सकती थी.

ये भी पढ़ेंः हैकिंग को लेकर सूचना मंत्रालय सख्त, Facebook से मांगी रिपोर्ट

‘डेटा प्रोटेक्शन कमीशन’ के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, ‘‘आयरिश डेटा प्रोटेक्शन कमीशन (डीपीसी) ने फेसबुक डेटा सुरक्षा उल्लंघन के मामले में तीन अक्टूबर 2018 को जांच शुरू की है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘खासतौर पर जनरल डेटा प्रोटेक्शन रेगुलेशन (जीडीपीआर) के तहत फेसबुक की जांच की जाएगी ताकि निजी डेटा की सुरक्षा और संरक्षण को सुनिश्चित करने के लिए उपयुक्त तकनीकी उपायों को लागू किया जा सके.’’



इस आयरिश जांच को संशोधित यूरोपीय विनियमन कानून के पहले जांच के रूप में देखा जा रहा है, जो मई में लागू हुआ था. अगर नियमों के पालन में गलती पाई जाती है, तो ऐसे में फेसबुक पर उसके कुल सालाना कारोबार का चार प्रतिशत तक जुर्माना लग सकता है.
ये भी पढ़ेंः युवती की शादी से ख़फ़ा फेसबुक फ्रेंड ने AK-47 के साथ फ़ोटो खींच दी धमकी

हालांकि यूरोपीय संघ के एक शीर्ष डेटा गोपनीयता अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि सोशल मीडिया फर्म पर अधिकतम जुर्माना लगने की संभावना नहीं है क्योंकि उसने कानून के मुताबिक 72 घंटे के भीतर डेटा सुरक्षा उल्लंघन की जानकारी देने के जरूरी प्रावधान का पालन किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज