अपना शहर चुनें

States

तो क्या दुबई से ऑपरेट हो रहे हैं दिल्ली-एनसीआर के गैंग

सांकेतिक फोटो.
सांकेतिक फोटो.

पुलिस चाहकर भी इनके गिरेबां तक हाथ नहीं डाल पा रही है. क्योंकि कोई गैंग लीडर दुबई में बैठा है तो कोई दिल्ली की जेलों में बैठकर अपने गैंग को चला रहा है.

  • Share this:
नरेश कौशल गैंग, नीरज बवानिया, गोगी, टिल्लू, किशन पहलवान, छेनू, नासिर, समुंद्र खत्री, संदीप ढिल्लू, हाशिम बाबा, कुलदीप फजा, अशोक प्रधान, संजय लाकरा, महेश ठेकेदार, राजेश मोगली और जितेन्द्र भांजा. अलग-अलग 16 गैंग के यह वो नाम हैं जो पुलिस की फाइलों में दर्ज हैं. लेकिन दिल्ली पुलिस में इंस्पेक्टर रहे रिटायर्ड राजकिशोर जादौन बताते हैं, “छोटे-छोटे 20 से ज्यादा और भी गैंग हैं जो दिल्ली-एनसीआर में सक्रिय हैं. अभी तक दिल्ली पुलिस लूट और हत्याओं की वारदातों से ही परेशान थी, लेकिन हाल ही के कुछ दिनों में दिल्ली के भीड़भाड़ वाले इलाकों में हुईं गैंगवार ने पुलिस की परेशानी को और बढ़ा दिया है. द्वारका में हुई गैंगवार में तो राह चलती महिला सहित 5 लोग मारे गए थे.

अभी तक इस तरह की गैंगवार सिर्फ मुम्बई में ही देखने और सुनने को मिलती थीं. एक और जो बात दिल्ली पुलिस को परेशान किए हुए है और दिल्ली-एनसीआर को अंडर वर्ल्ड की राह पर ले जा रही है वो है गैंग के लीडर. पुलिस चाहकर भी इनके गिरेबां तक हाथ नहीं डाल पा रही है. क्योंकि कोई गैंग लीडर दुबई में बैठा है तो कोई दिल्ली की जेलों में बैठकर अपने गैंग को चला रहा है.”

दुबई से दिल्ली-एनसीआर में गैंग चला रहा है नरेश कौशल



दिल्ली पुलिस की टॉप-10 और टॉप-5 गैंग्स की लिस्ट में नरेश कौशल गैंग टॉप पर बताया जाता है. गुड़गांव के रहने वाले नरेश पर दर्जनों हत्याएं, हत्या का प्रयास और रंगदारी लेने के मामले दर्ज हैं. यह गिरोह दिल्ली में लूट, रंगदारी और हत्याएं करने में तेजी से उभरते हुए गैंग राजेश भारती का ही हिस्सा है. गैंगस्टर राजेश भारती को पिछले साल 10 जून को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने साउथ दिल्ली में एनकाउंटर में मार गिराया था. नरेश कौशल का एरिया वैसे तो गुड़गांव ज्यादा है, लेकिन उसने दिल्ली में भी कई वारदात को अंजाम दिया है. इस वक्त नरेश दुबई से अपने गैंग को चला रहा है.
सांकेतिक फोटो.


जेल के अंदर से ऑपरेट हो रहे हैं दिल्ली के ये गैंग

सोनू, टिल्लू, नीरज बवानिया और गोगी इस वक्त जेल में बताए जाते हैं. लेकिन खास बात यह है कि इन चारों ही लोगों के गैंग दिल्ली में वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. 30 जून को भी नीरज बावानिया गैंग के एक शॉर्प शूटर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इतना ही नहीं सभी चारों लोगों के शूटर आपस में गैंगवार में भी टकराते रहते हैं.

जेल से पेरोल पर आए और दिल्ली में चला रहे हैं गैंग

खत्री और बाबा गैंग के सरगना पेरोल पर जेल से बाहर आए थे. लेकिन बाहर आने के बाद यह वापस जेल में नहीं गए. तीन गैंग के सरगना ऐसे भी हैं जो जमानत पर जेल से आए थे, लेकिन उसके बाद कभी जेल में वापस नहीं लौटे.

गैंग जो दिल्ली-एनसीआर में फैला रहे हैं दहशत

  1. गोगी गैंग


सरगना-  जितेंद्र गोगी

इनाम- 4 लाख

सदस्य-  24-25 लोग, अभी सरगना समेत पांच जेल में हैं, बाकी बाहर.

मामले-  हत्या के 12, 24 लूटपाट.

सबसे चर्चित कांड : 2009 में दिल्ली के अलीपुर में कांस्टेबल समेत चार की हत्या की थी.

सबसे ताजा कांड : 15 जनवरी 2018 को रोहिणी कोर्ट के पास मोनू उर्फ नेपाली की गोली मारकर हत्या की थी.

फाइल फोटो- दिल्ली पुलिस.


  1. टिल्लू गैंग


सरगना-  सुनील मान

सदस्य-  20 लोग, 3 जेल में, बाकी बाहर.

मामले-  हत्या के 10, 24 चोरी, लूटपाट

सबसे चर्चित कांड-  2015 में रोहिणी में अरुण कमांडो की हत्या की थी, 2017 में अलीपुर में अंकित नाम के शिक्षक की गोली मारकर हत्या की थी.

सबसे ताजा कांड-  सितंबर 2017 में गोगी गैंग के गुर्गे दीपक उर्फ बंटी की गोली मारकर हत्या की थी.

  1. छेनू गैंग


सरगना-  छेनू

सदस्य-  14 लोग, 4 जेल में, बाकी बाहर.

मामले-  हत्या के 6 और 1 दर्जन केस

सबसे चर्चित कांड-  23 दिसंबर 2015 को नासिर गैंग ने छेनू पर कड़कड़डूमा कोर्ट में गोलियां चलाई थीं, छेनू बच गया था, 1 कांस्टेबल की मौत होई थी.

सबसे ताजा कांड-  दिसंबर 2017 में नासिर गैंग ने छेनू गैंग के कमर और उसके साथी इमरान की हत्या की थी.

  1. किशन पहलवान गैंग


सरगना : किशन पहलवान

सदस्य : 20 लाेग, 4 जेल में बाकी बाहर.

मामले : हत्या के 11, 1 दर्जन से ज्यादा अन्य

  1. फज्जा गैंग


सरगना : कुलदीप फज्जा

सदस्य : 12 लोग, 2 जेल में बाकी बाहर.

मामले : हत्या के 11, 1 दर्जन से ज्यादा अन्य

- गोगी गैंग का गुर्गा रहा है.

- दिल्ली यूनिवर्सिटी से साइंस ग्रैजुएट है और किसान का बेटा है.

- 2014 में विरोधी गैंग के विकास की हत्या कर चर्चा में आया था कुलदीप.

फाइल फोटो- दिल्ली पुलिस.


  1. खत्री गैंग


सरगना : सुरेन्द्र उर्फ समुंद्र खत्री

इनाम- 4 लाख

सदस्य : 15 से 20 लोग सदस्य हैं.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

- 2015 में तिहाड़ जेल से पैरोल पर बाहर आया.

- जेल से बाहर आते ही दिल्ली और हरियाणा में एक-एक पुलिस वाले की हत्या कर दी.

  1. बाबा गैंग


सरगना : हाशिम बाबा

इनाम- 50 हजार.

सदस्य : 10 से 15 लोग सदस्य हैं.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

- जेल से पैरोल पर बाहर आने के बाद दोबारा जेल नहीं गया.

- उत्तर-पूर्वी दिल्ली में आतंक का पर्याय बन चुका है.

- 2017 में विरोधी छेनू इरफान हाशिम बाबा के कई साथियों की हत्या कर चुका है.

- बाबा लगातार छेनू के आदमियों को मारने की फिराक में रहता है.

  1. लाकरा गैंग.


सरगना : संय लाकरा.

इनाम- 2 लाख.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

चर्चित कांड- ऑनर किलिंग के बाद से सुर्खियों में आया.

- किशन पहलवान के गैंग में काम करने से शुरुआत की थी.

- जमानत मिलने के बाद फरार हो गया और दोबारा जेल में नहीं लौटा.

- हत्या और लूट के दर्जनों मामलों में वॉन्टेड है.

  1. ढिल्लू गैंग.


सरगना : संदीप ढिल्लू.

इनाम- 2 लाख.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

चर्चित कांड- नजफगढ़ इलाके में प्रदीप उर्फ बांके की हत्या.

- फरवरी 2018 में दिल्ली पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया.

  1. ठेकेदार गैंग.


सरगना : महेश ठेकेदार.

इनाम- 2 लाख.

मामले : अपरहण और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

चर्चित कांड- अपरहण के एक मामले में 50 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी.

- मंजीत डबास के साथ निगम के एक पूर्व पार्षद के पुत्र का अपरहण कर चर्चा में आया.

- फरवरी 2018 में दिल्ली पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया.

ये भी पढ़ें- मॉब लिंचिंग के शिकार हुए लोगों में आधे से ज्यादा गैर-मुस्लिम

मोदी सरकार का मुस्लिम लड़कियों को एक और बड़ा तोहफा

अमेठी-अलवर सहित मोदी सरकार का देश को 5 सैनिक स्कूल का तोहफा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज