Home /News /nation /

क्या डेल्टा से ज्यादा खतरनाक है ओमिक्रॉन, वैक्सीन हो जाएंगी फेल? एक्सपर्ट ने दिए सारे जवाब

क्या डेल्टा से ज्यादा खतरनाक है ओमिक्रॉन, वैक्सीन हो जाएंगी फेल? एक्सपर्ट ने दिए सारे जवाब

ओमिक्रॉन वैरिएंट को लेकर दुनियाभर में हड़कंप है. (तस्वीर-AP)

ओमिक्रॉन वैरिएंट को लेकर दुनियाभर में हड़कंप है. (तस्वीर-AP)

Is Omicron More Dangerous than Delta: अफ्रीका में मिले कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट को लेकर भारत में भी एक्सपर्ट्स नजर रख रहे हैं. कोविड वैक्सीन के बूस्टर और अतिरिक्त डोज की भी तैयारी चल रही है. इस बीच देश के बड़े एक्सपर्ट चंद्रकांत लहरिया ने ओमिक्रॉन को लेकर कई चिंताओं के जवाब दिए हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के नए ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron) ने पूरी दुनिया को चिंतित कर दिया है. कोविड का कहर झेल रही दुनिया में चिंता है कि क्या ओमिक्रॉन वैरिएंट डेल्टा (Delta Variant) से भी ज्यादा खतरनाक है? अफ्रीका में मिले इस वैरिएंट को लेकर भारत में भी एक्सपर्ट्स नजर रख रहे हैं. कोविड वैक्सीन के बूस्टर और अतिरिक्त डोज की भी तैयारी चल रही है. इस बीच देश के बड़े एक्सपर्ट डॉ. चंद्रकांत लहरिया (DR CHANDRAKANT LAHARIYA) ने ओमिक्रॉन को लेकर कई चिंताओं के जवाब दिए हैं.

    चंद्रकांत लहरिया कहते हैं- ओमिक्रॉन यानी B.1.1.529 वैरिएंट के बारे में अब तक जानकारी है कि इसमें करीब 50 म्यूटेशन हुए हैं. इनमें 32 स्पाइक प्रोटीन हैं और इनमें 10 बेहद महत्वपूर्ण हैं. इनमें H655Y, N679K और P681H म्यूटेशन शामिल हैं जिनकी वजह से संक्रमण क्षमता ज्यादा होने की आशंका है. इसके अलावा भी कई फैक्टर हैं जो ओमिक्रॉन की संक्रमण क्षमता में इजाफा कर सकते हैं.

    हालांकि डेल्टा वैरिएंट अब तक कोरोना का सबसे संक्रामक वैरिएंट रहा है. अभी ये जानकारी नहीं है कि डेल्टा और ओमिक्रॉन की संक्रामक क्षमता में कितना अंतर है. ओमिक्रॉन की वास्तविक संक्रमण क्षमता इस बात पर निर्भर करेगी कि उसमें हुए म्यूटेशन का कॉम्बिनेशन किस तरह से काम करता है.

    ये भी पढ़ें: MSP को लेकर देश में कितने जागरूक हैं किसान? कौन ले पा रहा है इसका फायदा

    किन जगहों पर ज्यादा खतरा?
    अगर ओमिक्रॉन में इम्यून सिस्टम को चकमा देने की क्षमता नहीं हुई तो जिन जगहों पर बड़ी संख्या में वैक्सीनेशन हो चुका है, वहां पर इसका असर कम होगा. लेकिन ये उन जगहों पर नई लहर का कारण बन सकता है जहां पर वैक्सीनेशन कम हुआ है. इसे लेकर अध्ययन किए जाने की जरूरत है.

    कितना है दोबारा संक्रमण का खतरा?
    ओमिक्रॉन के कारण कोरोना का संक्रमण दोबारा होने के खतरे पर लहरिया का कहना है- नए वैरिएंट के खिलाफ व्यक्तिगत तौर पर प्रतिरोधक क्षमता के प्रभाव पर वैज्ञानिक अध्ययन किए जा रहे हैं. हमें याद रखना होगा कि कोरोना के दोबारा संक्रमण का खतरा सभी वैरिएंट में होता है. इसीलिए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना बेहद जरूरी है.

    क्या वैक्सीन नए वैरिएंट के खिलाफ कारगर होंगी?
    डॉ. लहरिया का कहना है- हमें यह याद रखना होगा कि कोरोना वैक्सीन कारगर तो हैं लेकिन 100  प्रतिशत सुरक्षा नहीं प्रदान करती. लगभग सभी वैक्सीन से हुए वैक्सीनेशन के बाद ब्रेकथ्रू संक्रमण के मामले सामने आए हैं. इसे लेकर ओमिक्रॉन पर भी अध्ययन करना होगा.

    (पूरा लेख यहां क्लिक कर पढ़ा जा सकता है.)

    Tags: COVID 19, Omicron, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर