लाइव टीवी

बांग्लादेश में पढ़ रहीं दविंदर की बेटियों के लिए ISI कर रही फंडिंग, NIA जांच में जुटी

News18Hindi
Updated: January 20, 2020, 5:49 AM IST
बांग्लादेश में पढ़ रहीं दविंदर की बेटियों के लिए ISI कर रही फंडिंग, NIA जांच में जुटी
बांग्लादेश में पढ़ रहीं दविंदर की बेटियों के लिए ISI कर रही फंडिंग

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की जांच में ये बात भी सामने आई है कि साल 2019 में डीएसपी दविंदर सिंह (DSP Davinder Singh) तीन दिन के बांग्लादेश (Bangladesh) दौरे पर गया था और वहां कई दिनों तक रुका रहा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2020, 5:49 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर में हिजबुल मुजाहिद्दीन (Hizbul Mujahideen) के आतंकियों के साथ पकड़े गए पुलिस ऑफिसर दविंदर सिंह (DSP Davinder Singh) पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. एनआईए को शक है कि बर्खास्त डीएसपी दविंदर सिंह के पाकिस्तान (Pakistan) की खुफिया एजेंसी आईएसआई से भी कनेक्शन हैं. सूत्रों के मुताबिक बांग्लादेश में दविंदर की बेटियों की पढ़ाई के लिए आईएसआई फंड देता है.

अंग्रेजी अखबार द एशियन एज के मुताबिक दविंदर ने पूछताछ के दौरान जांच एजेंसी को बताया कि नवीद अहमद से उसकी दोस्ती सात साल पुरानी है. सूत्रों के हवाले से दावा किया जा रहा है कि दविंदर पहली बार साल 2013 में नवीद से मिला था. नवीद ने कॉन्सटेबल के तौर पर पुलिस ज्वाइन की थी, बाद में वो SPO का हिस्सा बन गया था. बता दें कि तीन साल पहले नवीद अहमद पुलिस की नौकरी छोड़कर आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो गया था.

जांच अधिकारियों के मुताबिक हिजबुल कमांडर नवीद बाबू के सिर पर 20 लाख रुपये का इनाम था. लेकिन दविंदर सिंह उसकी 12 लाख रुपये में हिफाजत करता था. दविंदर सिंह के संरक्षण के चलते इरफान पिछले कुछ सालों में करीब पांच बार पाकिस्तान का दौरा कर चुका था. हालांकि, सुरक्षा एजेंसियों के पास उसकी गतिविधियों की कोई खास जानकारी नहीं थी.

इसे भी पढ़ें :- बड़ा खुलासा! DSP दविंदर की आतंकी नवीद के साथ थी सात साल से साठगांठ, दूसरे आतंकियों तक खबर पहुंचाकर कमाई बेशुमार दौलत

आईएसआई करती है फंडिंग
राष्ट्रीय जांच एजेंसी की जांच में पता चला है कि दविंदर सिंह के तार पाकिस्तान के आईएसआई तक जुड़े हुए थे. भारत में आतंकियों को संरक्षण देने के लिए दविंदर को आईएसआई की ओर से काफी पैसे भी दिए जाते थे. जांच में यह भी बात सामने आई है कि साल 2019 में देवेंद्र सिंह तीन दिन के बांग्लादेश दौरे पर गया था और वहां कई दिनों तक रुका रहा. सूत्रों के मुताबिक बांग्लादेश में पढ़ाई कर रहीं दविंदर की दोनों बेटियों का खर्चा भी आईएसआई ही उठा रही है.

इसे भी पढ़ें :- DSP दविंदर सिंह ने किए आतंकी नेटवर्क को लेकर कई खुलासे, हाथ जोड़कर मांग रहा रहम की भीखतीन आतंकियों के साथ पकड़ा गया था दविंदर सिंह
दविंदर सिंह तीनों आतंकियों को सादे कपड़े में शनिवार सुबह करीब 10 बजे घर से निकले थे. पुलिस ने श्रीनगर से लगभग 60 किलोमीटर दूर उनकी कार को रोका था. अधिकारियों ने बताया कि गड़बड़ी कर फंस जाने के बाद दविंदर सिंह पुलिसवालों के सवालों का गोलमोल जवाब दे रहे थे, जिसके बाद उन्हें आतंकियों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया और बाद में उनके घर की तलाशी ली गई.

इसे भी पढ़ें :- आतंकियों के मददगार DSP दविंदर के खिलाफ IB को मिले सनसनीखेज सबूत, इस खत से खुल सकता है बड़ा राज़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 5:49 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर