Union Budget 2018-19 Union Budget 2018-19

रविवार को भारत आएंगे इजराइल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू

News18Hindi
Updated: January 12, 2018, 10:45 AM IST
रविवार को भारत आएंगे इजराइल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू
File Photo of Israeli Prime Minister Benjamin Netanyahu
News18Hindi
Updated: January 12, 2018, 10:45 AM IST
इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू रविवार को छह दिन की यात्रा पर भारत आएंगे. इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच संबंधों को नया आयाम मिलने की उम्मीद है.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नेतन्याहू सोमावार को बैठक करेंगे, जिसमें विभिन्न मुद्दों पर बातचीत होगी तथा सहयोग के नए अवसर तलाशे जाएंगे. इसका मकसद दोनों देशों के बीच विशेष संबंधों को नई ऊंचाई पर ले जाना है.

मंत्रालय में संयुक्त सचिव (पश्चिम एशिया-उत्तरी अफ्रीका विभाग) बी. बाला भास्कर ने कहा कि दोनों प्रधानमंत्री के बीच बातचीत में फलस्तीन का मुद्दा उठने की संभावना है. इसके अलावा द्विपक्षीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा की उम्मीद है. इजराइली प्रधानमंत्री अहमदाबाद, मुंबई और आगरा भी जाएंगे.

गौरतलब है कि भारत ने दिसंबर में संयुक्त राष्ट्र महासभा में उस प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया था,  जिसमें यरुशलम को इजराइल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने के अमेरिका के फैसले की आलोचना की थी. जिसके बाद नेतन्याहू ने कहा था कि वह यरुशलम के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत द्वारा इजराइल के खिलाफ वोट देने से निराश नहीं हैं और उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत की यात्रा के दौरान द्विपक्षीय संबंध और मजबूत होंगे.

उन्होंने कहा था कि, जाहिर है मैंने सोचा था कि अलग वोट होगा लेकिन मुझे नहीं लगता कि इससे भारत और इजराइल के बीच रिश्ते में बदलाव आएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी जुलाई में यहूदी देश की यात्रा की थी और वह ऐसा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री थे. उन्होने कहा, मुझे लगता है कि हर कोई वह देख सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रा मील का पत्थर थी. भारत की मेरी यात्रा भी मील का पत्थर है.

यह पूछे जाने पर कि टैंक रोधी निर्देशित मिसाइलों को विकसित करने से संबंधित लाखों डॉलर का रक्षा सौदा रद्द करने के भारत के हालिया फैसले का क्या असर होगा, इस पर इजराइली नेता ने कहा, मुझे लगता है कि इस सौदे पर ध्यान दिए बिना आप आर्थिक या अन्य संबंधों का विस्तार देखने जा रहे हैं. सभी मोर्चों पर रिश्तों को मजबूत करने पर जोर देते हुए नेतन्याहू ने उम्मीद जताते हुए कहा, कुछ समय बाद मैं उम्मीद करता हूं, अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत के वोट में बदलाव देखूंगा.

इजराइली प्रधानमंत्री ने कहा, इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि भारत के साथ, लातिन अमेरिका और अफ्रीका में अन्य देशों के साथ संबंध सभी मोर्चों पर मजबूत हुए हैं. अंतरराष्ट्रीय मोर्चे पर इसमें समय लगेगा.

(इनपुट भाषा से)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर