तकनीकी वजहों से चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग रोकी गई, नई तारीख का ऐलान जल्द

चंद्रयान-2 को तड़के 2.51 बजे लॉन्च किया जाना था, लेकिन लॉन्चिंग की उल्टी गिनती से 56 मिनट 24 सेकण्ड पहले रात 1:55 मिनट पर लॉन्चिंग को टाल दिया गया.

News18Hindi
Updated: July 15, 2019, 7:57 AM IST
तकनीकी वजहों से चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग रोकी गई, नई तारीख का ऐलान जल्द
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: July 15, 2019, 7:57 AM IST
इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाईजेशन (इसरो) के दूसरे चंद्र मिशन ‘चंद्रयान-2’ की लॉन्चिंग तकनीकी वजहों से रोक दी गई. इसरो की ओर से इसे सोमवार तड़के 2.51 बजे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से लॉन्च किया जाना था, लेकिन लॉन्चिंग सिस्टम में एक तकनीकी दिक्कत के चलते इसे रोक दिया गया. लॉन्चिंग की नई तारीख की घोषणा जल्द ही की जाएगी.

‘चंद्रयान-2’ को देश के सबसे ताकतवर बाहुबली रॉकेट जीएसएलवी-एमके 3 से लॉन्च किया जाना था. पहले चंद्र मिशन की कामयाबी के 11 साल बाद 978 करोड़ रुपए की लागत से बने 'चंद्रयान-2' का प्रक्षेपण होना था.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी चंद्रयान-2 लॉन्चिंग को देखने के लिए श्रीहरिकोटा में थे. इसरो ने चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग टालने के बाद बयान जारी कर कहा, "लॉन्चिंग के करीब 1 घंटे पहले लॉन्च वीइकल सिस्टम में एक तकनीकी दिक्कत का पता चला. ऐहतियातन हमने आज लॉन्च होने वाले चंद्रयान-2 मिशन को यहीं रोकने का फैसला किया है. लॉन्चिंग की नई तारीख की घोषणा जल्द ही जाएगी."



जल्द होगा नई तारीख का ऐलान
इसरो के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि तकनीकी खामी की वजह से लॉन्चिंग को टाला जाता है. लॉन्चिंग विंडो के अंदर लॉन्च करना संभव नहीं है. लॉन्चिंग की नई तारीख का ऐलान जल्द ही किया जाएगा.

चंद्रयान-2 का उद्देश्य
Loading...

बताते चलें कि ‘चंद्रयान-2’ मिशन से चांद के बारे में समझ बढ़ाने में तो मदद मिलेगी ही साथ ही इससे ऐसी नई खोज होंगी जिनका भारत और पूरी मानवता को लाभ मिलेगा. चंद्रयान-2 का उद्देश्य चंद्रमा की सतह में मौजूद तत्वों का अध्ययन कर यह पता लगाना है कि उसके चट्टान और मिट्टी किन तत्वों से बनी है. इसके अलावा चंद्रयान वहां मौजूद खाइयों और चोटियों की संरचना का अध्ययन के साथ उसकी सतह का घनत्व और उसमें होने वाले परिवर्तन की भी जांच करेगा. चंद्रयान-2 चंद्रमा की सतह पर जल, हाईड्राक्सिल के निशान ढूढ़ने के अलावा चंद्रमा के सतह की थ्रीडी तस्वीरें भी लेगा.

ये भी पढ़ें: चंद्रयान 2 मिशन के पीछे मोदी का प्रभाव? जानें क्या कह रही है दुनिया
First published: July 15, 2019, 12:26 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...