• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • ISRO ने लॉन्च किया RISAT-2BR1 सैटेलाइट, अंतरिक्ष में बनेगा भारत की दूसरी आंख

ISRO ने लॉन्च किया RISAT-2BR1 सैटेलाइट, अंतरिक्ष में बनेगा भारत की दूसरी आंख

डिफेंस सैटेलाइट RISAT को श्रीहरिकोटा के स्पेस स्टेशन से लॉन्च किया गया.

डिफेंस सैटेलाइट RISAT को श्रीहरिकोटा के स्पेस स्टेशन से लॉन्च किया गया.

रिसैट-2बीआर1 की लॉन्चिंग के साथ ही इसरो के नाम एक और रिकॉर्ड बन जाएगा. ये रिकॉर्ड है - 20 सालों में 33 देशों के 319 उपग्रह छोड़ने का. 1999 से लेकर अब तक इसरो ने कुल 310 विदेशी सैटेलाइट्स अंतरिक्ष में स्थापित किए हैं. आज के 9 उपग्रहों को मिला दें तो ये संख्या 319 हो जाएगी.

  • Share this:
    चेन्नई. भारत के रडार ईमेजिंग पृथ्वी निगरानी सैटेलाइट रिसैट-2बीआर1 (RISAT2BR1) को पीएसएलवी-48 (PSLVC-48) यान लॉन्च हो गया है. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से इस डिफेंस सैटेलाइट को दोपहर 3:30 बजे लॉन्च किया. इसके साथ ही अंतरिक्ष पर भारत की निगरानी की ताकत पहले से और अधिक बढ़ जाएगी. इसरो ने बताया कि रिसैट-2बीआर1 मिशन की लाइफ 5 साल है.

    रिसैट-2बीआर1 की लॉन्चिंग के साथ ही इसरो के नाम एक और रिकॉर्ड बन जाएगा. ये रिकॉर्ड है - 20 सालों में 33 देशों के 319 उपग्रह छोड़ने का. 1999 से लेकर अब तक इसरो ने कुल 310 विदेशी सैटेलाइट्स अंतरिक्ष में स्थापित किए हैं. आज के 9 उपग्रहों को मिला दें तो ये संख्या 319 हो जाएगी. ये 319 सैटेला

     



    यह पीएसएलवी की 50वीं उड़ान है और श्रीहरिकोटा से लॉन्च होने वाला ये 75वां रॉकेट था. रिसैट-2बीआर1 से पहले 22 मई को रिसैट-2बी की सफल लॉन्चिंग हुई थी.



    कृषि, वन एवं आपदा प्रबंधन में सहायता उपलब्ध कराने के मकसद से तैयार किया गया 628 किलोग्राम भार वाला यह उपग्रह अपने साथ नौ छोटे उपग्रहों को ले जाएगा. इनमें इजराइल, इटली, जापान का एक-एक और अमेरिका के छह उपग्रह शामिल होंगे.



    इसरो ने कहा कि मंगलवार को दोपहर चार बजकर 40 मिनट पर रिसैट-2बीआर1 के लिए उल्टी गिनती चालू हो गई थी. अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि इन उपग्रहों का प्रक्षेपण न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड के साथ हुए व्यावसायिक करार के तहत किया जा रहा है. (भाषा इनपुट के साथ)

    ये भी पढ़ें : AGR पेमेंट पर दूरसंचार विभाग सख्त, भुगतान में देरी ना करें टेलीकॉम कंपनियां 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज