• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • इसरो ने लॉन्च किया साउंडिंग रॉकेट RH-560, हवाओं के बदलाव से जुड़े अध्ययन में करेगा मदद

इसरो ने लॉन्च किया साउंडिंग रॉकेट RH-560, हवाओं के बदलाव से जुड़े अध्ययन में करेगा मदद

परिज्ञापी रॉकेट, प्रक्षेपण यान और उपग्रह की उप प्रणाली आदि के परीक्षण के लिए भी वहनीय मंच उपलब्ध कराते हैं.

ISRO: इसरो ने ट्वीट किया, 'आज (शुक्रवार को) श्रीहरिकोटा स्थित एसडीएससी एसएचएआर से परिज्ञापी रॉकेट (आरएच-560) को ऊंचाई के साथ हवा और प्लाज्मा गतिकी में आने वाले अंतर का अध्ययन करने के लिए प्रक्षेपित किया गया.'

  • Share this:
    बेंगलुरु. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (Indian Space Research Organization) (इसरो) ने ऊंचाई के साथ हवाओं में आने वाले अंतर और प्लाज्मा गतिकी (डायनेमिक्स) का अध्ययन करने के लिए श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से एक परिज्ञापी रॉकेट (साउंडिंग रॉकेट) प्रक्षेपित किया है.

    इसरो के बेंगलुरु स्थित मुख्यालय के मुताबिक, संगठन ने परिज्ञापी रॉकेटों की श्रृंखला विकसित की है जिसे रोहिणी श्रृंखला कहते हैं और इनमें से आरएच-200, आरएच-300 और आरएच-560 महत्वपूर्ण हैं. ये नाम इन रॉकेटों के व्यास को मिलीमीटर में इंगित करते हैं.

    इसरो ने ट्वीट कर दी जानकारी
    इसरो ने ट्वीट किया, 'आज (शुक्रवार को) श्रीहरिकोटा स्थित एसडीएससी एसएचएआर से परिज्ञापी रॉकेट (आरएच-560) को ऊंचाई के साथ हवा और प्लाज्मा गतिकी में आने वाले अंतर का अध्ययन करने के लिए प्रक्षेपित किया गया.'


    जानिए किस तरह खास हैं परिज्ञापी राकेट
    परिज्ञापी राकेट एक या दो चरण वाले ठोस प्रणोदक राकेट हैं जिनका अंतरिक्ष अनुसंधान के लिए और ऊपरी वायुमंडलीय क्षेत्रों के अन्‍वेषण हेतु उपयोग किया जाता है. परिज्ञापी रॉकेट, प्रक्षेपण यान और उपग्रह की उप प्रणाली आदि के परीक्षण के लिए भी वहनीय मंच उपलब्ध कराते हैं.

    ये भी पढ़ेंः- COVID-19: पुणे से लेकर औरंगाबाद तक महाराष्ट्र के कई शहरों में लगाई गई पाबंदियां- 10 खास बातें

    इससे पहले इसरो की कमर्शियल ब्रांच न्यू स्पेस इंडिया लिमटेड (एनएसआईएल) से जुड़ी एक खबर सामने आई थी. इस खबर में एनएसआईएल की ओर से कहा गया था कि वह कामकाज बढ़ाने के उदेश्य से आगामी पांच वर्षों में लगभग 10 हजार करोड़ रुपये का निवेश करेगी. इसके अलावा उसको 300 अतिरिक्त लोगों की जरूरत होगी, जिनकी भर्ती जल्द की जाएगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज