लाइव टीवी

नागरिकता कानून पर संग्राम: योगेंद्र यादव बोले- आज के दिन हिरासत में होना मेरे लिए सम्मान की बात

News18Hindi
Updated: December 19, 2019, 2:37 PM IST
नागरिकता कानून पर संग्राम: योगेंद्र यादव बोले- आज के दिन हिरासत में होना मेरे लिए सम्मान की बात
योगेंद्र यादव ने ट्वीट किया कि '19 दिसंबर को अशफाकुल्ला खान और रामप्रसाद बिस्मिल को एक छोटी सी श्रद्धांजलि दी गई.

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment Act) के विरोध में योगेंद्र यादव (Yogendra yadav) को हिरासत में ले लिया गया है. उन्हें लाल किले से हिरासत में लिया गया

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2019, 2:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment Act) के खिलाफ प्रदर्शन में शामिल हुए स्वराज इंडिया (Swaraj India) के मुखिया योगेंद्र यादव (Yogendra yadav) को हिुए हिरासत में लिया गया. स्वराज इंडिया के प्रमुख योगेंद्र यादव ने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि वह उन हजारों लोगों में शामिल हैं, जिन्हें पुलिस ने नई दिल्ली में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ विरोध करने के चलते हिरासत में लिया है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हिरासत में होना हमारे लिए 'सम्मान' जैसा है.

योगेंद्र यादव ने ट्वीट किया, '19 दिसंबर को अशफाकुल्ला खान और रामप्रसाद बिस्मिल को एक छोटी सी श्रद्धांजलि दी गई. आज के दिन हिरासत में लिया जाना 'सम्मान' है. पटियाला के पूर्व सांसद डॉ. धर्मवीर गांधी भी साथ हैं.'

यादव ने लिखा, 'मुझे अभी लाल किला से हिरासत में लिया गया है. लगभग एक हजार प्रदर्शनकारियों को पहले ही हिरासत में ले लिया. हजारों रास्ते में हैं. बताया गया कि हमें बवाना ले जाया जा रहा है.'.



छात्रों और सामाजिक कार्यकर्ताओं को बसों में भरकर ले जाया गया



बता दें कि मार्च निकालने की कोशिश कर रहे छात्रों और सामाजिक कार्यकर्ताओं को बसों में भरकर ले जाया गया. हाथों में तख्तियां लिए हुए और नारे लगाते हुए प्रदर्शनकारियों ने खुद को बसों में ले जाने दिया. यादव ने कहा, ‘मैं जानता हूं कि हमारे कई साथियों को हिरासत में लिया जा रहा है, इसके बावजूद कई लोग यहां एकत्र हुए.’



वहीं अजय माकन ने कहा कि उनके बेटे और पत्नी को गिरफ्तार कर लिया गया है.  कांग्रेस नेता अजय माकन ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि उनके बेटे और परिजनों को भी हिरासत में ले लिया गया. उन्होंने लिखा, '18 साल के साहिल जिसे पुलिस ने मंडी हाउस में  घसीटा और एक बस में  डाल दिया वह मेरा बेटा है. मेरी पत्नी और बेटी को भी जबरदस्ती बस में डाल दिया गया और मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन में हिरासत में लिया गया!' पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी रामचंद्र गुहा और अन्य प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिये जाने पर विरोध किया है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें: नागरिकता कानून: BJP ने निकाला मनमोहन का Video, कहा- इन्हीं की तो बात मानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 19, 2019, 1:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading