Home /News /nation /

it will be a pleasure to meet chancellor scholz again says pm narendra modi ahead of g7 germany visit

जी-7 सम्मेलन के लिए रवाना होने से पहले बोले पीएम मोदी- 'आतंकवाद, पर्यावरण जैसे बड़े मुद्दों पर रखूंगा अपने विचार'

पीएम मोदी जर्मनी के लिए आज रात रवाना होंगे. (फाइल फोटो)

पीएम मोदी जर्मनी के लिए आज रात रवाना होंगे. (फाइल फोटो)

PM Narendra Modi, Germany, G7 Summit, German Chancellor Olaf Scholz: विश्व के सात सबसे धनी देशों के समूह जी-7 के शिखर सम्मेलन के लिए मोदी 26 और 27 जून को दक्षिणी जर्मनी के श्लॉस एलमाऊ का दौरा करेंगे. जी-7 के नेताओं के यूक्रेन संकट पर ध्यान केंद्रित करने की उम्मीद है जिसने वैश्विक खाद्य और ऊर्जा संकट को बढ़ावा देने के अलावा भू-राजनीतिक उथल-पुथल को जन्म दिया है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: जर्मनी में रविवार से जी-7 (G-7 Summit) शिखर सम्मेलन की शुरुआत हो रही है. इस दो दिवसीय सम्मेलन में भाग लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narednra Modi) भी जर्मनी पहुंचेंगे. पीएम मोदी ने शनिवार को कहा कि पिछले साल भारत जर्मनी अंतर सरकारी परामर्श (IGC) के आयोजित होने के बाद एक बार फिर से जर्मन चांसलर ओलाफ स्कोल्ज़ (German Chancellor Olaf Scholz) से मुलाकात होगी जो कि मेरे लिए खुशी की बात है.

जी-7 शिखर सम्मेलन के लिए जर्मनी की अपनी यात्रा से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि वह समूह और इसके भागीदारों के साथ ऊर्जा, खाद्य सुरक्षा, आतंकवाद रोधी उपायों, पर्यावरण और लोकतंत्र जैसे मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करेंगे.

सात सबसे धनी देश होंगे एक मंच पर
विश़्व के सात सबसे धनी देशों के समूह जी-7 के शिखर सम्मेलन के लिए मोदी 26 और 27 जून को दक्षिणी जर्मनी के श्लॉस एलमाऊ का दौरा करेंगे. जी-7 के नेताओं के यूक्रेन संकट पर ध्यान केंद्रित करने की उम्मीद है जिसने वैश्विक खाद्य और ऊर्जा संकट को बढ़ावा देने के अलावा भू-राजनीतिक उथल-पुथल को जन्म दिया है.

जर्मनी के चांसलर ओलाफ शॉल्त्स के आमंत्रण पर मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले हैं. शिखर सम्मेलन की मेजबानी जर्मनी द्वारा जी-7 के अध्यक्ष के रूप में की जा रही है.

प्रधानमंत्री ने अपने दौरे के पहले एक बयान में कहा, ‘‘मानवता को प्रभावित करने वाले महत्वपूर्ण वैश्विक मुद्दों पर अंतरराष्ट्रीय सहयोग को मजबूत करने के प्रयास में जर्मनी ने अर्जेंटीना, इंडोनेशिया, सेनेगल और दक्षिण अफ्रीका जैसे अन्य लोकतांत्रिक देशों को भी जी-7 शिखर सम्मेलन में आमंत्रित किया है.’’

सम्मेलन में इन मुद्दों पर होगी चर्चा
मोदी ने कहा, ‘‘शिखर सम्मेलन के सत्र के दौरान मैं पर्यावरण, ऊर्जा, जलवायु, खाद्य सुरक्षा, स्वास्थ्य, आतंकवाद रोधी, लैंगिक समानता और लोकतंत्र जैसे सामयिक मुद्दों पर जी-7 के भागीदार देशों और अतिथि अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ विचारों का आदान-प्रदान करूंगा.’’

मोदी ने कहा कि वह शिखर सम्मेलन से इतर भाग लेने वाले जी-7 और अतिथि देशों में से कुछ के नेताओं से मिलने के लिए उत्सुक हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि वह पिछले महीने ‘सार्थक’ भारत-जर्मनी अंतर-सरकारी परामर्श (आईजीसी) के बाद चांसलर शॉल्त्स से फिर से मिलने के लिए उत्सुक हैं.

आज रात रवाना होंगे पीएम मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘जर्मनी की यात्रा के दौरान मैं यूरोप के भारतीय प्रवासी सदस्यों से मिलने के लिए भी उत्सुक हूं, जो स्थानीय अर्थव्यवस्थाओं में बहुत योगदान दे रहे हैं और साथ ही यूरोपीय देशों के साथ हमारे संबंधों को समृद्ध कर रहे हैं.’’ मोदी शनिवार रात जर्मनी के लिए रवाना होंगे.

जर्मनी से मोदी 28 जून को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) जाएंगे और यूएई के पूर्व राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान के निधन पर शोक व्यक्त करेंगे. मोदी ने कहा, ‘‘भारत वापस आते समय मैं 28 जून को यूएई के राष्ट्रपति और अबू धाबी के शासक शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के साथ एक बैठक के लिए अबू धाबी, यूएई में कुछ देर ठहरूंगा तथा यूएई के पूर्व राष्ट्रपति और अबू धाबी के शासक शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान के निधन पर निजी तौर पर शोक प्रकट करूंगा.’’

जायद अल नाहयान का 13 मई को निधन हो गया था. उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू भारत की तरफ से संवेदना प्रकट करने के लिए यूएई गए थे.

Tags: G-7 Summit, MP Narendra Modi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर