Home /News /nation /

जम्मू-कश्मीर: 'शव छीनने' की अफवाहों के बीच पुलिस ने जारी किया सैयद अली शाह गिलानी के जनाजे का वीडियो

जम्मू-कश्मीर: 'शव छीनने' की अफवाहों के बीच पुलिस ने जारी किया सैयद अली शाह गिलानी के जनाजे का वीडियो

सैयद अली शाह गिलानी का 92 साल की उम्र में श्रीनगर में बुधवार रात को निधन हो गया था. (PTI)

सैयद अली शाह गिलानी का 92 साल की उम्र में श्रीनगर में बुधवार रात को निधन हो गया था. (PTI)

Syed Ali Shah Geelani Funeral: वीडियो में नजर आ रहा है कि एक समूह मृत शरीर को नहला रहा है और उन्हें कफन से ढांका जा रहा है. इसके बाद जनाज़े की नमाद अदा की गई और हैदरपोरा कब्रिस्तान में उनके शव को दफन किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में तनाव के बीच पुलिस ने अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के जनाजे (Syed Ali Shah Geelani Funeral) का वीडिया जारी किया है. गिलानी के बेटों ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने उनके पिता के शव को जबरन छीन लिया था और परिवार के साथ गलत तरीके से बर्ताव किया गया. साथ ही यह भी आरोप लगाए गए थे कि गिलानी के परिवार को 92 वर्षीय नेता का अंतिम संस्कार नहीं करने दिया गया. गिलानी ने गुरुवार को अंतिम सांस ली थी.

    एक वीडियो में नजर आ रहा है कि एक समूह मृत शरीर को नहला रहा है और उन्हें कफन से ढांका जा रहा है. इसके बाद जनाज़े की नमाद अदा की गई और हैदरपोरा कब्रिस्तान में उनके शव को दफन किया गया. यह कब्रिस्तान गिलानी के घर से कुछ ही दूरी पर स्थित है.

    इससे पहले अफवाहें सामने आई थीं कि पुलिस ने बगैर स्नान और कफन के अलगाववादी नेता को दफना दिया था. इससे जुड़े कुछ वीडियो भी जारी किए गए थे.

    हालांकि, पुलिस ने अपनी कार्रवाई पर कहा कि पहले परिवार रात में ही शव को दफनाने के लिए तैयार हो गया था, लेकिन बाद में उन्होंने अपना मन बदल लिया, जिसके चलते पुलिस को मजबूर होना पड़ा. सोमवार को कश्मीर जोन की पुलिस ने ट्वीट किया, ‘हालांकि, तीन घंटों के बाद शायद पाकिस्तान और बदमाशों के दबाव में उन्होंने अलग तरीके से बर्ताव करना शुरू कर दिया और मृत शरीर को पाकिस्तान के झंडे में लपेटने, पाकिस्तान समर्थित नारे लगाने और पड़ोसियों को बाहर निकलने के लिए उकसाने समेत देश विरोधी गतिविधियां करने लगे.’

    यहां देखें पुलिस की तरफ से साझा किए हुए वीडियो-

    पुलिस ने ट्वीट किया था, ‘मनाने के बाद रिश्तेदार शरीर को लेकर कब्रिस्तान पहुंचे और सम्मानित इंतिजामिया कमेटी और स्थानीय इमाम के साथ अंतिम क्रियाएं की गईं. उनके दोनों बेटों का कब्रिस्तान में आने से मना करना उनकी अपने गुजरे हुए पिता के प्रति प्यार और सम्मान के बजाए पाकिस्तानी एजेंडा के लिए वफादारी के संकेत थे.’ रविवार को पुलिस ने मृत शरीर को पाकिस्तान के झंडे में लपेटने को लेकर गिलानी के कुछ रिश्तेदारों के खिलाफ UAPA के तहत मामला दर्ज किया है.

    जम्मू-कश्मीर में हुई सियासी बयानबाजी
    कुछ लोगों ने चार दिनों के बाद अपनी बात बताते हुए वीडियो जारी करने पर सवाल उठाए. वहीं, कुछ लोगों ने अंतिम क्रियाओं का वीडियो बनाने की भी आलोचना की है. इससे पहले जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और हुर्रियत नेता मीरवाइज उमर फारूक ने गिलानी के शव के साथ ‘गलत व्यवहार’ करने के आरोप लगाए थे.

    बीते चार दिनों से कश्मीर में तनावपूर्ण अशांति का दौर जारी है. कश्मीर के अधिकांश हिस्सों से पाबंदियों को हटा लिया गया है. वहीं, पुलिस ने कहा है कि श्रीनगर में मोबाइल इंटरनेट कल तक बंद रहेगा.

    Tags: Funeral, Kashmir, Pakistan, Syed Ali Shah Geelani

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर