J&K: आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़, भारी मात्रा में हथियार बरामद

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों द्वारा सोमवार को चलाए गए चलाए गए एक कासो अभियान के तहत एक आतंकी ठिकाने का बता चला, जिसमें बड़े पैमाने में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया.

भाषा
Updated: September 11, 2018, 11:13 PM IST
J&K: आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़, भारी मात्रा में हथियार बरामद
File Photo (AP Photo/Dar Yasin)
भाषा
Updated: September 11, 2018, 11:13 PM IST
सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर  के राजौरी जिले में आतंकियों के एक सुरक्षित ठिकाने का पता लगाकर नष्ट कर दिया है. आतंकियों के इस ठिकाने से भारी मात्रा में गोला बारूद और हथियार बरामद किया गया है. सुरक्षा बलों के एक संयुक्त तलाशी अभियान में आतंकियों द्वारा लम्बे समय से इस्तेमाल किए जा रहे एक गुप्त ठिकाने का पता चला. सुरक्षा बलों ने इस आतंकी ठिकाने को नष्ट कर के बड़े पैमाने पर हथियार और गोला-बारूद बरामद किया है.

जम्‍मू-कश्‍मीर के कुपवाड़ा में सेना ने दो आतंकियों को AK56 के साथ पकड़ा

सुरक्षा बलों के इस अभियान को लेकर राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक युगल मन्हास ने बताया है कि,  सेना और राज्य पुलिस के विशेष बलों के एक संयुक्त तलाशी और घेराबंदी अभियान (CASO)के दौरान धार सकरी गांव के कांडी इलाके के जंगलों में सुरक्षा बलों को आतंकियों के एक सुरक्षित ठिकाने का पता चला. आतंकियों के इस ठिकाने से बड़े पैमाने में आतंकी साहित्य से लेकर हथियारों का जखीरा मिला है.

इस जखीरे में दो एके क्लाशनिकोव राइफल, 6 पिस्टल, 4 एके राइफल की मैगजीन, 58 गोलियां, अंडर बैरल लॉन्चर ,एक रेडियो सेट के साथ मशीन गन की 680 राउंड़ गोलियां बरामद की गई हैं. वहीं सेना के जम्मू डिवीजन के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने कहा कि सेना द्वारा किए जा रहे अभियान में बड़े पैमाने पर प्रशिक्षित कुत्तों को तैनात किया गया है. साथ ही सेना इन खोजी अभियानों में ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है.

जम्मू-कश्मीर: पुलिस पार्टी पर हुए आतंकी हमले में एक पुलिसकर्मी शहीद, दो अन्य घायल

सुरक्षा बलों के इस अभियान के बारे में जानकारी देते हुए मन्हास ने बताया कि कासो अभियान को सोमवार शाम को शुरू किया गया था. जिसमें इतनी बड़ी सफलता मिली है. गौरतलब है कि राज्य में आतंकियों के सफाये को लेकर सुरक्षा बलों ने बड़े पैमाने पर एक संयुक्त तलाशी और घेराबंदी अभियान को चला रखा है. पिछले दो सालों में इस अभियान को बड़ी सफलता मिला है. इस दौरान करीब 350 आतंकियों को मार गिराया गया है.

अभी हाल ही में सुरक्षा बलों ने राज्य में सर्वाधिक आतंक प्रभावित तीन जिलों के 18 गांवों में कासो चलाया गया है. सुरक्षा बलों के इस अभियान में एक ठहराव तब देखा गया जब ईद के उपलक्ष में राज्य की सरकार की मांग पर राज्य में कासो अभियानों को रोक दिया गया. लेकिन सुरक्षा बलों पर बढ़े आतंकी हमलों के साथ ही राज्य में आतंकी घटनाओं की बाढ़ सी आ गई. ऐसे में सरकार ने कासो अभियान को एक बार फिर से आरम्भ किया गया है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर