Assembly Banner 2021

पुरी जगन्‍नाथ यात्रा को SC से मंजूरी, अब विजय रुपाणी अहमदाबाद रथ यात्रा की मांगेंगे इजाजत

पुरी जगन्‍नाथ यात्रा को SC से हरी झंडी

पुरी जगन्‍नाथ यात्रा को SC से हरी झंडी

Jagannath Rath Yatra: गुजरात (Gujarat) के मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने कहा कि गुजरात सरकार ने अहमदाबाद में भगवान जगन्‍नाथ की यात्रा को अनुमति देने के लिए गुजरात हाईकोर्ट (Gujarat High Court) में एक याचिका दायर करने का फैसला किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 22, 2020, 10:04 PM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. ओडिशा (Odisha) में भगवान जगन्नाथ (Puri Jagannath Rath Yatra) की रथ यात्रा को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कुछ शर्तों के साथ मंजूरी दे दी है. सुप्रीम कोर्ट ने मंजूरी देते हुए कहा क‍ि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) को ध्यान में रखते हुए इसे सार्वजनिक भागीदारी के बिना आयोजित किया जा सकता है. सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने कहा कि गुजरात सरकार ने अहमदाबाद में भगवान जगन्‍नाथ की यात्रा को अनुमति देने के लिए गुजरात हाईकोर्ट में एक याचिका दायर करने का फैसला किया है.

पुरी में ऐतिहासिक भगवान जगन्नाथ रथयात्रा को उच्चतम न्यायालय की मंजूरी मिलने के साथ ही ओडिशा सरकार ने सोमवार को प्रशासनिक अमले को 23 जून को निर्धारित यात्रा के लिये युद्ध स्तर पर तैयारियां पूरी करने का निर्देश दिया है. राज्य के मुख्य सचिव एके त्रिपाठी और पुलिस महानिदेशक अभय जरूरी इंतजामों के लिये पुरी पहुंचे. त्रिपाठी ने कहा, 'डीजीपी और मैं मुख्यमंत्री के निर्देश पर तैयारियों का जायजा लेने के लिये पुरी पहुंचे हैं. हम यहीं पर रुकेंगे. मुझे भरोसा है कि कल श्रद्धालुओं के बिना ही सुगमता के साथ रथयात्रा निकाली जाएगी. इस दौरान कोविड-19 दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन किया जाएगा.'





जगन्नाथ यात्रा की तैयारियां जोरों पर
पुरी जिला प्रशासन ने इस ऐतिहासिक कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर एक बैठक की है. विभिन्न विभागों को यात्रा के लिये अपना तंत्र तैयार रखने को कहा गया है. पुरी जिला कलेक्टर बलवंत सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य, पुलिस, पेयजल, बिजली, स्वच्छता और स्थानीय निगम जैसे सभी विभाग तैयार हैं. उन्होंने लोगों से प्रशासन की मदद करने और अनुशासन बनाए रखने की अपील की. श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन के प्रमुख प्रशासक कृष्ण कुमार ने कहा कि सभी विभाग अच्छी तरह तैयार हैं.

ये भी पढ़ें: जगन्‍नाथ रथ यात्रा को SC ने शर्तों के साथ दी मंजूरी, पुरी में 24 जून तक शटडाउन 

एएसआई ने लकड़ी के 3 रथों का निरीक्षण किया
एनसी पाल की अध्यक्षता में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) कोर कमेटी ने भी लकड़ी के इन तीन रथों का निरीक्षण किया और सत्यापित किया कि वे खींचे जाने के लिए सुरक्षित हैं. पुरी नगरपालिका के अधिकारियों ने सभी सड़क विक्रेताओं से सोमवार शाम तक ग्रैंड रोड (बड़ा डांडा) को खाली करने को कहा है ताकि मंगलवार को रथ को खींचा जा सके. पुलिस ने कहा कि उसे सूचना मिली है कि रथयात्रा को रोकने के लिये उच्चतम न्यायालय जाने वाले ओडिशा विकास परिषद के अध्यक्ष सुशांत पाढ़ी के घर पर अंडे फेंके गए हैं.

पुलिस ने बताया कि गुस्साए लोगों ने पाढ़ी की कार को पथराव कर क्षतिग्रस्त कर दिया और उनके खिलाफ नारेबाजी की. जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिये लाठीचार्ज किया. भुवनेश्वर के बोमीखल में उनके घर के निकट सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया है. उच्चतम न्यायालय ने पाढ़ी की याचिका पर 18 जून को रथयात्रा रोक लगाने का आदेश दिया था. याचिका में कहा गया था कि रथयात्रा होने से जन स्वास्थ्य खतरे में पड़ सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज