• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • ईरान के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के शपथग्रहण में शामिल होंगे एस जयशंकर : विदेश मंत्रालय

ईरान के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के शपथग्रहण में शामिल होंगे एस जयशंकर : विदेश मंत्रालय

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर  (फाइल फोटो: PTI)

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर (फाइल फोटो: PTI)

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ईरान सरकार के निमंत्रण पर, विदेश मंत्री एस जयशंकर (External Affairs Minister S Jaishankar) निर्वाचित राष्ट्रपति अयातुल्ला सैय्यद इब्राहिम रईसी के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए 5 अगस्त और 6 अगस्त को ईरान की यात्रा करेंगे.’’ वे राष्ट्रपति और इसके इतर अन्य नेताओं से भी मुलाकात करेंगे.

  • Share this:

    नयी दिल्ली . विदेश मंत्री एस जयशंकर (External Affairs Minister S Jaishankar)  बृहस्पतिवार को तेहरान में नवनिर्वाचित ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी के शपथ ग्रहण समारोह में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. विदेश मंत्रालय ने घोषणा की, कि जयशंकर मुख्य रूप से शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के लिए बृहस्पतिवार से ईरान की दो दिवसीय यात्रा करेंगे. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ईरान सरकार के निमंत्रण पर, विदेश मंत्री निर्वाचित राष्ट्रपति अयातुल्ला सैय्यद इब्राहिम रईसी के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए 5 अगस्त और 6 अगस्त को ईरान की यात्रा करेंगे.’’

    बयान में कहा गया है, ‘‘विदेश मंत्री अपनी इस यात्रा के दौरान राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे और इसके इतर अन्य नेताओं से भी मुलाकात करेंगे.’’ रईसी एक कट्टरपंथी होने के साथ ही और ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई के करीबी माने जाते हैं. वह जून में भारी बहुमत से राष्ट्रपति चुनाव जीते थे. जयशंकर पिछले महीने रूस जाने के रास्ते में ईरानी राजधानी में रुके थे और उस दौरान निर्वाचित राष्ट्रपति राईसी से मुलाकात की थी. जयशंकर ने रईसी के साथ अपनी तस्वीरों को शेयर करके ट्वीट किया था, ‘निर्वाचित राष्ट्रपति इब्राहीम रईसी को उनका भव्य स्वागत के लिए धन्यवाद. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिला एक व्यक्तिगत संदेश सौंपा. हमारे द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने और क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर सहयोग का विस्तार करने के लिए उनकी मजबूत प्रतिबद्धता को गहराई से महत्व देते हैं.’

    ये भी पढ़ें : दलित बच्ची की मौत पर राहुल के ट्वीट पर पुलिस और ट्विटर कार्रवाई करे: बाल आयोग

    ये भी पढ़ें :  डेल्टा वेरिएंट से बचने को न दें वैक्सीन की बूस्टर डोज, आखिर WHO ने ऐसा क्यों कहा? समझिए

    विदेश मंत्री ने तेहरान में अपने ईरानी समकक्ष जवाद जरीफ के साथ भी व्यापक बातचीत की थी, जिसमें अफगानिस्तान में तेजी से विकसित हो रही स्थिति सहित कई प्रमुख मुद्दे शामिल थे. जयशंकर की तेहरान की यात्रा ऐसे समय हो रही है जब वह देश में एक अफगान वार्ता की मेजबानी कर रहा है. खाड़ी क्षेत्र में ईरान भारत के लिए एक प्रमुख देश रहा है.

    बता दें, रईसी की जीत पर भारत के पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी थी. मोदी ने ट्वीट किया, ‘इब्राहीम रईसी को इस्लामिक गणराज्य ईरान के राष्ट्रपति के रूप में निर्वाचित होने पर बधाई. मैं भारत एवं ईरान के बीच संबंधों को और मजबूत बनाने के लिए उनके साथ मिलकर काम करने को लेकर उत्सुक हूं.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज