जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने कहा- भारत के साथ होने में ही कश्मीर की भलाई

जमीयत उलेमा-ए-हिंद (Jamiat Ulema-e-Hind) ने कहा, 'हमें लगता है कि कश्मीरी लोगों के लोकतांत्रिक और मानवाधिकारों की रक्षा करना हमारा राष्ट्रीय कर्तव्य है.'

News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 12:21 PM IST
जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने कहा- भारत के साथ होने में ही कश्मीर की भलाई
जमीयत उलेमा-ए-हिंद (Jamiat Ulema-e-Hind) ने कहा, हमें लगता है कि कश्मीरी लोगों के लोकतांत्रिक और मानवाधिकारों की रक्षा करना हमारा राष्ट्रीय कर्तव्य है.
News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 12:21 PM IST
नई दिल्ली. जमीयत उलेमा-ए-हिंद (Jamiat Ulema-e-Hind) ने कहा है कि कश्मीर (kashmir) भारत का अभिन्न अंग है. दिल्ली (Delhi) में हुई एक बैठक में जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने एक प्रस्ताव पास किया. इसमें कहा गया है, 'कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और सभी कश्मीरी हमारे हमवतन हैं. कोई भी अलगाववादी आंदोलन न केवल देश के लिए बल्कि कश्मीर के लोगों के लिए भी हानिकारक है.'

उन्होंने कहा, 'हमें लगता है कि कश्मीरी लोगों के लोकतांत्रिक और मानवाधिकारों की रक्षा करना हमारा राष्ट्रीय कर्तव्य है. फिर भी, यह हमारा दृढ़ विश्वास है कि उनकी भलाई भारत के साथ होने में निहित हैं. विरोधी ताकतें और पड़ोसी देश कश्मीर को नष्ट करने पर तुले हुए हैं.'

जमीयत उलेमा-ए-हिंद के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी (Maulana Arshad Madani) ने शुक्रवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) के सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) से मुलाकात की. यह मुलाकात राजधानी स्थित RSS के कार्यालय 'केशव कुंज' में हुई थी.



दोनों की मुलाकात में हुई थी यह बात
दोनों की यह मुलाकात करीब डेढ़ घंटे तक चली थी. एक सूत्र ने बताया, 'दोनों की मुलाकात की भूमिका लंबे समय से तैयार हो रही थी और इसके लिए भाजपा के पूर्व संगठन महासचिव राम लाल मुख्य रूप से प्रयासरत थे.'

दोनों के बीच मॉब लिंचिंग में भीड़ द्वारा हत्या, घृणा अपराधों की घटनाओं को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत पर भी जोर दिया. एनआरसी और कुछ अन्य मुद्दों पर भी बात हुई.
Loading...

यह भी पढ़ें:  

आखिर कहां 'गायब' हो गई कश्मीरी लड़की ? खाक छान रही J&K पुलिस
पाकिस्तान ने LoC पर 30 लॉन्च पैड तैयार किए, भारत में बड़ी साजिश रचने की तैयारी
अमेरिका ने इराक में की एयर स्ट्राइक, आईएस के ठिकानों पर 36 हजार किलो बम गिराए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 11:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...