• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • जम्मू और कश्मीर: लाल चौक से भी हटाए गए बैरिकेड, बुधवार से खुल जाएंगे मिडिल क्लास

जम्मू और कश्मीर: लाल चौक से भी हटाए गए बैरिकेड, बुधवार से खुल जाएंगे मिडिल क्लास

 सिविल लाइन्स क्षेत्रों के कुछ भागों में वाहनों की आवाजाही बढ़ी   (PTI Photo/S. Irfan)

सिविल लाइन्स क्षेत्रों के कुछ भागों में वाहनों की आवाजाही बढ़ी (PTI Photo/S. Irfan)

सिविल लाइन्स क्षेत्रों के कुछ भागों में वाहनों की आवाजाही बढ़ी लेकिन श्रीनगर (Srinagar) के निचले इलाकों और कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) के कई हिस्सों में आवाजाही कम रही.

  • Share this:
    जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के श्रीनगर (Srinagar) शहर के व्यावसायिक केंद्र लाल चौक (Lal Chowk) पर घंटाघर के आसपास बैरिकेड मंगलवार को 15 दिन बाद हटा लिये गये. इस व्यावसायिक केंद्र पर लोगों और वाहनों की आवाजाही की अनुमति दी गई. कुछ इलाकों में पाबंदियों में छूट दी गई जबकि कुछ अन्य में जारी रही.

    अधिकारियों ने बताया कि सोमवार को फिर से खुले अधिकांश प्राथमिक विद्यालयों में कोई छात्र नहीं दिखा लेकिन सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति में सुधार हुआ. उन्होंने बताया कि शहर के सिविल लाइन्स क्षेत्रों के कुछ भागों में वाहनों की आवाजाही बढ़ी लेकिन श्रीनगर के निचले इलाकों और कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) के कई हिस्सों में आवाजाही कम रही.

    यह भी पढ़ें:  जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में अनिश्चितता का माहौल

    कुछ स्थानों पर पाबंदियों को हटा लिया गया
    प्रशासन ने बताया कि कुछ स्थानों पर पाबंदियों को हटा लिया गया. हालांकि इन स्थानों पर कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाये रखने के लिए सुरक्षा बलों की तैनाती जारी है. घाटी में बाजार बंद रहे जबकि सार्वजनिक परिवहन सड़कों से नदारद रहे. मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं लगातार 16वें दिन बाधित रही जबकि ज्यादातर क्षेत्रों में लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं भी प्रभावित रही.

    अधिकारियों ने बताया कि गत पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर (Jammu And Kashmir)को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370  (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को हटाये जाने के बाद से स्थिति कुल मिलाकर शांतिपूर्ण बनी हुई है. घाटी के कुछ हिस्सों में युवाओं के समूहों और सुरक्षा बलों के बीच झड़प हुई है. अधिकारियों का कहना है कि कुछ लोगों के घायल होने की सूचना है लेकिन स्थिति शांतिपूर्ण बनी हुई है.

    यह भी पढ़ें:   जम्मू-कश्मीर में सरकार इस प्रोजेक्ट पर करेगी 5821 करोड़ खर्च

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज