J&K गवर्नर ने राहुल गांधी से कहा- आपने जवाब देने में लगाए 4 दिन, अब बाद में देखेंगे...

राजभवन की ओर से कहा गया है, जम्‍मू-कश्‍मीर प्रशासन स्‍वतंत्रता दिवस की तैयारियों में व्‍यस्‍त है. सही समय पर प्रशासन सांसद राहुल गांधी से संपर्क करेगा. राज्‍यपाल इस मुद्दे पर अब कोई जवाब नहीं देंगे. राहुल ने बिना शर्त घाटी आने की कही थी बात.

News18Hindi
Updated: August 14, 2019, 7:34 PM IST
J&K गवर्नर ने राहुल गांधी से कहा- आपने जवाब देने में लगाए 4 दिन, अब बाद में देखेंगे...
अनुच्‍छेद-370 हटाए जाने के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर दौरे को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी और सूबे के राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक के बीच बयानबाजी का दौर लगातार जारी है.
News18Hindi
Updated: August 14, 2019, 7:34 PM IST
जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के गवर्नर सत्‍यपाल मलिक (Satya Pal Malik) और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के बीच जुबानी जंग थमने का नाम नहीं ले रही है. दोनों एक दूसरे के बयानों का लगातार जवाब दे रहे हैं. राहुल गांधी ने आज कहा कि वह जम्मू-कश्मीर आने को तैयार हैं, लेकिन बिना किसी शर्त के. इस पर जम्‍मू-कश्‍मीर राजभवन की ओर से कहा गया है कि आपने जवाब देने में चार दिन लगा दिए. फिलहाल हम स्‍वतंत्रता दिवस की तैयारियों में व्‍यस्‍त हैं इस बात पर बाद में विचार किया जाएगा.

राहुल ने किया था ट्वीट, बिना शर्त घाटी आने को हूं तैयार
राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बुधवार को ट्वीट किया, 'मैंने आपकी तरफ से अपने ट्वीट का बेहद कमजोर जवाब देखा. मुझे जम्मू-कश्मीर आकर लोगों से मिलने का आपका न्योता मंजूर है, लेकिन बिना किसी शर्त के. मैं कब आऊं? इससे पहले मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के राजभवन ने कहा था कि राहुल गांधी विपक्षी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल लेकर आने की बात करके मामले का राजनीतिकरण कर रहे हैं, जिससे हालात खराब होंगे और आम लोगों की दिक्कतें बढ़ेंगी.



राज्‍यपाल ने राहुल के दौरे का मामला प्रशासन को सौंपा
राजभवन की ओर से आज कहा गया है कि राहुल गांधी ने एयरक्राफ्ट भेजने की राज्‍यपाल की पेशकश का जवाब देने में चार दिन लगा दिए. फिलहाल राज्‍य का पूरा प्रशासन स्‍वतंत्रता दिवस की तैयारियों में व्‍यस्‍त है. राज्‍यपाल ने राहुल गांधी के घाटी दौरे के मामले को स्‍थानीय प्रशासन को सौंप दिया है. प्रशासन सांसद राहुल गांधी से सही समय पर संकर्प कर लेगा. राज्‍यपाल इस मुद्दे पर आगे किसी बात का जवाब नहीं देंगे.

'पाकिस्‍तान से आ रही फर्जी खबरों पर प्रतिक्रिया न दें राहुल'
Loading...

राजभवन ने ये भी कहा था, पाकिस्तान की ओर से आ रही फर्जी खबरों पर कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी का ये कहना कि कश्मीर में हालात खराब हैं, बिल्कुल गलत है. छिटपुट घटनाओं को छोड़ कश्मीर में शांति है. राहुल गांधी भारतीय चैनलों पर दी जा रही खबरों को देखकर कश्मीर के सही हालात का पता लगा सकते हैं. पिछले दिनों राहुल गांधी ने जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद-370 हटाए जाने के बाद से घाटी के हालात पर सवाल उठाए थे.

राज्‍यपाल ने एयरक्राफ्ट भेजने की रखी थी पेशकश
राहुल गांधी को जवाब देते हुए राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने कहा था कि वह घाटी के हालात दिखाने के लिए राहुल को एयरक्राफ्ट भेजेंगे. मलिक ने कहा था, 'मैंने राहुल को यहां आने का न्योता दिया है. मैंने उनसे कहा कि मैं आपके लिए एयरक्राफ्ट भेजूंगा, ताकि आप स्थिति का जायजा लें और तब बोलें. आप एक जिम्मेदार व्यक्ति हैं और आपको ऐसे बात नहीं करनी चाहिए.' बता दें कि शनिवार को राहुल गांधी ने कहा था कि जम्मू कश्मीर से हिंसा की खबरें आई हैं. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को पारदर्शी तरीके से मामले पर चिंता जतानी चाहिए.

ये भी पढ़ें: 

15 अगस्‍त से एक दिन पहले पाकिस्‍तानी सेना ने दी भारत को युद्ध की धमकी

राहुल गांधी का पलटवार, गवर्नर मलिक से पूछा- बिना किसी शर्त के कब आ सकता हूं कश्मीर

 
First published: August 14, 2019, 6:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...