जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव का बयान, ईद पर नहीं चली एक भी गोली

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में गोली चलने की घटना पर रोहित कंसल (Rohit Kansal) ने कहा कि सुरक्षा एजेंसियों द्वारा एक भी गोली नहीं चलाई गई और न ही कोई हताहत हुआ.

News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 6:43 PM IST
जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव का बयान, ईद पर नहीं चली एक भी गोली
जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव रोहित कंसल ने कहा कि ईद पर एक भी गोली नहीं चली
News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 6:43 PM IST
जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के मुख्य सचिव (नीति आयोग) रोहित कंसल ने उन खबरों का खंडन किया है, जिनमें सुरक्षा एजेंसियों (Security Agencies) द्वारा फायरिंग और मौतों का दावा किया जा रहा था. उन्होंने इससे इनकार किया कि जम्मू-कश्मीर में फायरिंग की कोई घटना घटी. रोहित कंसल ने कहा कि सुरक्षा एजेंसियों द्वारा एक भी गोली नहीं चलाई गई और न ही कोई हताहत हुआ.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 (Article 370 हटाए जाने के बाद कर्फ्यू लगाया गया था. हालांकि बकरीद (Bakrid) के मौके पर कर्फ्यू में ढील दी गई और घाटी में लोग सड़कों पर नजर आए.



रोहित कंसल ने कहा, "डिस्ट्रिक्ट एंड डिविजनल एडमिनिस्ट्रेशन ने मौलवी समेत कई लोगों से बात की, मंडियों का आयोजन किया परिणामस्वरूप हमने शांतिपूर्ण ईद का आयोजन किया."

डोभाल ने किया श्रीनगर का दौरा
जम्मू कश्मीर पहुंचे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (Ajit Doval) ने आज श्रीनगर के कई इलाकों का दौरा किया. बकरीद  के खास मौके पर अजीत डोभाल श्रीनगर के लाल चौक पर मौजूद थे. साथ ही उन्होंने कई संवेदनशील इलाकों का भी दौरा किया. अजीत डोभाल अपनी पूरी टीम के साथ श्रीनगर के डाउनटाउन इलाके में पहुंचे. श्रीनगर के जिन इलाकों में अजीत डोभाल पहुंचे थे, उनमें सौरा, पंपोर, लाल चौक और हजरतबल शामिल हैं. सौरा हाल के दिनों में श्रीनगर का सबसे संवेदनशील इलाका बन चुका है.

ये भी पढ़ें: भारत-पाक सीमा पर फीकी रही बकरीद, नहीं हुआ मिठाइयों का आदान-प्रदान
First published: August 12, 2019, 6:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...