Home /News /nation /

जम्‍मू-कश्‍मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर

जम्‍मू-कश्‍मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर

जम्मू कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए हैं.

जम्मू कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए हैं.

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के शोपियां (Shopian) जिले में मुठभेड़ में जिन दो आतंकियों (Terrorist) को मार गिराया गया है उनके बारे में कोई जानकारी हाथ नहीं लगी है. बता दें कि पिछले कई दिनों से घाटी में आतंकी घटनाएं बढ़ गई हैं, जिसे देखते हुए अब भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ अभियान चला रखा है.

अधिक पढ़ें ...

    श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के शोपियां (Shopian) जिले में सुरक्षा बलों ( Indian Security Forces) और आतंकवादियों (Terrorist) के बीच बुधवार को मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए. अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है कि आतंकी किस संगठन से जुड़े हुए हैं. बता दें पिछले कई दिनों से घाटी में आतंकी घटनाएं बढ़ गई हैं, जिसे देखते हुए अब भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ अभियान चला रखा है.

    जानकारी के मुताबिक भारतीय सुरक्षाबलों को खुफिया जानकारी मिली थी कि शोपियां के द्रागड इलाके में कुछ आतंकी छुपे हुए हैं. खुफिया जानकारी के आधार पर सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया और सर्च ऑपरेशन शुरू किया. खुद को घिरता देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी. पहले तो आतंकियों को आत्‍मसमर्पण करने का कहा गया, लेकिन जब आतंकियों ने फायररिंग जारी रखी तो सुरक्षाबलों को भी फायरिंग करनी पड़ी.

    काफी देर चली फायरिंग के बाद दो आतंकियों को मार गिराया गया. अभी तक इस बात की जानकारी नहीं लग सकी है कि दोनों आतंकी किस संगठन से जुड़े हुए थे. बता दें कि पिछले कुछ दिनों में घाटी में प्रवासी मजदूरों को निशाना बनाकर हमले किए जा रहे हैं. यही कारण है कि भारतीय सुरक्षाबलों ने एक बार फिर आतंकियों को पकड़ने के लिए जम्‍मू-कश्‍मीर में अभियान चला रखा है.

    ISI की मदद से एक नया आतंकी संगठन तैयार, भारत के 200 लोग हिट लिस्ट में
    भारतीय खुफिया एजेंसियों को पाकिस्तान स्थित समूहों द्वारा एक नया तंजीम (आतंकवादी संगठन) बनाने के बारे में सतर्क किया गया है जो सुरक्षा बलों, उनके मददगारों, सरकार के करीबी मीडियाकर्मियों, घाटी में गैर-स्थानीय लोगों, कश्मीरी पंडितों, सत्ताधारी पार्टी के नेताओं और उद्योगपतियों पर आने वाले समय में हमलों की जिम्मेदारी का दावा करेगा. खुफिया सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी. पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई समर्थित समूहों द्वारा 200 संस्थाओं और उनकी गाड़ियों को लेकर एक हिट लिस्ट तैयार की गई है.

    Tags: Encounter, Indian security agencies, Jammu, Jammu and kashmir, Terrorist, Terrorist attack

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर