Home /News /nation /

Jammu Airbase Attack: लश्कर सरगना हाफिज सईद के घर के पास ब्लास्ट से है जम्मू ड्रोन हमले का कनेक्शन?

Jammu Airbase Attack: लश्कर सरगना हाफिज सईद के घर के पास ब्लास्ट से है जम्मू ड्रोन हमले का कनेक्शन?

हाफिज सईद के लाहौर स्थित घर के पास पिछले हफ्ते धमाका हुआ था. हालांकि उस वक्त हाफिज अपने घर पर नहीं था. (फाइल)

हाफिज सईद के लाहौर स्थित घर के पास पिछले हफ्ते धमाका हुआ था. हालांकि उस वक्त हाफिज अपने घर पर नहीं था. (फाइल)

Drone attack at Jammu Airbase: जम्मू एयरबेस पर हुए ड्रोन हमले को लेकर एक थियरी यह भी बताई जा रही है कि लाहौर में लश्कर के सरगना हाफिज सईद के घर के पास हुए ब्लास्ट से आतंकी संगठन खुन्नस खाए हुए हैं. हालांकि लाहौर में हुए बम ब्लास्ट के लिए कौन जिम्मेदार है, इस बात का खुलासा अभी नहीं हो पाया है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. जम्मू स्थित भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के एयरबेस पर रविवार को हुए ड्रोन हमले (Drone Attack) का कनेक्शन पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा (LeT) के सरगना हाफिज सईद (Hafiz Saeed) के घर हुए ब्लास्ट से भी हो सकता है. मामले में जम्मू कश्मीर पुलिस और केंद्रीय जांच एजेंसियां इस बारे में किसी भी संभावित कनेक्शन का पता लगाने में जुटी हुई हैं, क्योंकि हमले के दरम्यान ही सुरक्षा बलों ने कश्मीर में लश्कर के सहयोगी आतंकी संगठन टीआरएफ का आतंकी भी पकड़ा है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, उसके पास से आईईडी भी बरामद किया गया है, जिसे जम्मू में मंदिर सहित हिंदू बहुल इलाके में प्लांट किया जाना था.

    टीआरएफ आतंकी के अलावा सुरक्षा एजेंसियों ने लश्कर के दो अन्य आतंकियों को भी उठाया था. इनमें से एक लश्कर का सीनियर कमांडर नदीम अबरार है, जिसे सोमवार को श्रीनगर से गिरफ्तार किया गया, जबकि दूसरे का ताल्लुक शोपियां से हैं. अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया ने सूत्रों के हवाले से अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि जांच एजेंसियां दोनों से पूछताछ के आधार पर जम्मू एयरपोर्ट के टेक्निकल एरिया में इंडियन एयरफोर्स के कैंप पर हुए ब्लास्ट का संबंध लश्कर से होने का पता लगा रही हैं.

    जम्मू -कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने सोमवार को कहा, 'जांच अभी शुरुआती स्तर पर है. लश्कर को इस मामले में संदिग्ध माना जा रहा है, क्योंकि बीते सालों के दरम्यान इसी आतंकी संगठन ने ड्रोन के सहारे भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद भारतीय इलाके में गिराए थे. कई मामलों में जैश का भी हाथ रहा है, लेकिन लश्कर ने ड्रोन के जरिए हथियार गिराने को आतंकियों के बीच पॉपुलर किया है. लश्कर द्वारा पेलोड के साथ ड्रोन के इस्तेमाल से इनकार नहीं किया जा सकता है."

    हालांकि दिलबाग सिंह ने इस बारे में बहुत ज्यादा नहीं बताया, लेकिन एक थियरी यह भी बताई जा रही है कि लाहौर में लश्कर के सरगना हाफिज सईद के घर हुए ब्लास्ट से आतंकी संगठन खुन्नस खाए हुए हैं. हालांकि लाहौर में हुए बम ब्लास्ट के लिए कौन जिम्मेदार है, इस बात का खुलासा अभी नहीं हो पाया है. जम्मू में मिलिट्री फैसिलिटी पर ड्रोन हमला लश्कर द्वारा हमला करने की अपनी क्षमताओं का संभावित प्रदर्शन भी हो सकता है.

    सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय के निर्देश पर नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (NSG) ने जम्मू एयरपोर्ट पर एंटी ड्रोन सर्विलांस सिस्टम तैनात कर दिया है. एक अधिकारी ने कहा कि इस तैनाती का आशय एंटी ड्रोन सर्विलांस सिस्टम के प्रभावों का अध्ययन करना है और अगर इसे अभेद्य पाया जाता है, तो अन्य संवेदनशील इलाकों और प्रतिष्ठानों में इसकी तैनाती हो सकती है.

    एक अन्य सूत्र ने कहा कि भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को लंबे समय से ड्रोन हमले का अंदेशा था. ऐसे में एनटीआरओ और एनएसजी द्वारा पिछले दो सालों में नई एंटी ड्रोन टेक्नोलॉजी की खरीद के साथ परीक्षण किया गया है.

    Tags: Drone Attack, Hafiz Saeed, Indian air force, Jammu and kashmir, Lashkar-e-taiba

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर