होम /न्यूज /राष्ट्र /बदल रहा है कश्मीर! आजादी के बाद पहली बार इस साल सबसे ज्यादा पहुंचे एक करोड़ पर्यटक

बदल रहा है कश्मीर! आजादी के बाद पहली बार इस साल सबसे ज्यादा पहुंचे एक करोड़ पर्यटक

जम्मू कश्मीर में इस साल अब तक 1.62 करोड़ रिकॉर्डतोड़ पर्यटक आ चुके हैं. (फोटो-ट्विटर)

जम्मू कश्मीर में इस साल अब तक 1.62 करोड़ रिकॉर्डतोड़ पर्यटक आ चुके हैं. (फोटो-ट्विटर)

जम्मू कश्मीर में पर्यटन को तेजी से बढ़ावा मिला है. सरकारी आंकड़े के मुताबिक 1.62 करोड़ लोग इस बार जम्मू कश्मीर घूमने पह ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

इस साल अब तक रिकॉर्ड 1.62 करोड़ पर्यटकों ने जम्मू कश्मीर की यात्रा की.
जनवरी, 2022 से अब तक 1.62 करोड़ पर्यटकों ने जम्मू कश्मीर का दौरा किया है.
पर्यटन विशेषज्ञों का कहना है कि यह कश्मीर पर्यटन के स्वर्ण युग की वापसी है.

श्रीनगर. जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद से केंद्र सरकार लगातार बदलाव की कोशिश कर रही है. जम्मू कश्मीर में पर्यटन को बढ़ावा देने की भी कोशिश कर रही है. जो लगभग सफल भी साबित हो रही है. इस साल अब तक रिकॉर्ड 1.62 करोड़ पर्यटकों ने जम्मू कश्मीर की यात्रा की, जो आजादी के बाद से सबसे अधिक है. एक सरकारी प्रवक्ता ने बृस्पतिवार को इसकी जानकारी दी. प्रवक्ता ने बताया कि यह केंद्र शासित प्रदेश के संपूर्ण विकास और बदलाव का गवाह है. उन्होंने कहा कि तीन दशकों के बाद कश्मीर लाखों पर्यटकों को आकर्षित कर रहा है. पर्यटन विशेषज्ञों का कहना है कि यह कश्मीर पर्यटन के स्वर्ण युग की वापसी है.

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर आने वाले पर्यटकों की रिकॉर्ड संख्या केंद्र शासित प्रदेश में हुए समग्र विकास और बदलाव को दर्शाती है. प्रवक्ता ने कहा कि पर्यटन जम्मू कश्मीर में रोजगार का सबसे बड़ा स्रोत है और जनवरी, 2022 से अब तक 1.62 करोड़ पर्यटकों ने जम्मू कश्मीर का दौरा किया है, जो स्वतंत्रता के 75 वर्षों में सबसे अधिक है. उन्होंने कहा कि इस साल के पहले आठ महीनों में 3.65 लाख अमरनाथ यात्रियों सहित 20.5 लाख पर्यटकों ने कश्मीर की यात्रा की. पर्यटन आधारित अर्थव्यवस्था होने से सैलानियों के बढ़ने के चलते पर्यटन क्षेत्र से जुड़े लोगों में काफी उत्साह है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस बार आए पर्यटक केवल कश्मीर व जम्मू तक सीमित नहीं रहे. बल्कि राजौरी-पुंछ जैसे पहाड़ी क्षेत्रों में भी पर्यटक काफी अधिक संख्या में पहुंचे. इसका मुख्य कारण एक यह भी था कि प्रशासन ने 75 नए पर्यटन स्थलों को भी बढ़ावा दिया, जहां बहुत ही कम लोग या तो कोई जाता ही नहीं था.  मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय उड़ाने शुरू होने से भी पर्यटकों की संख्या बढ़ी है. पिछले 70 साल से यह मांग थी कि जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू की जाएं तो इस बार मोदी सरकार ने लोगों की मांग पूरी करते हुए श्रीनगर से शारजाह के लिए सीधी उड़ान शुरू कराई.

Tags: Jammu kashmir

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें