अब 7000 लोग कर सकेंगे माता वैष्णो देवी के दर्शन, जाने से पहले यहां जानें डिटेल्स

लॉकडाउन में वैष्णों देवी की यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.
लॉकडाउन में वैष्णों देवी की यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.

माता वैष्णो देवी मंदिर जाने वाले तीर्थयात्रियों की सीमा प्रति दिन 5000 से बढ़ाकर 7000 कर दी गई है. जम्मू-कश्मीर सरकार के सचिव सिमरनदीप सिंह ने कहा कि श्राइन बोर्ड के सीईओ द्वारा यह निर्णय लिया जाएगा कि इनमें से कितने तीर्थयात्री जम्मू-कश्मीर से और कितने केंद्र शासित प्रदेश के बाहर से आएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 9, 2020, 5:33 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में अनलॉक 5.0 के तहत स्कूल, कॉलेज और उच्च शिक्षा संस्थानों को खोलने की अनुमति दे दी गई है. राज्य में सिनेमा हॉल (Cinema halls), बार, कोचिंग सेंटर (Coaching centres) खोलने की अनुमति दे दी है. जम्मू-कश्मीर सरकार के सचिव सिमरनदीप सिंह (Simrandeep Singh) ने कहा, कुछ सिनेमा हॉल, बार, कोचिंग सेंटर कल से दोबारा खुल रहे हैं. वहीं, कुछ 15 अक्टूबर से खुलेंगे.

सिमरनदीप सिंह ने कहा, 'माता वैष्णो देवी मंदिर जाने वाले तीर्थयात्रियों की सीमा प्रति दिन 5000 से बढ़ाकर 7000 कर दी गई है. श्राइन बोर्ड के सीईओ द्वारा यह निर्णय लिया जाएगा कि इनमें से कितने तीर्थयात्री जम्मू-कश्मीर से और कितने केंद्र शासित प्रदेशों के बाहर से आएंगे. माता वैष्णो देवी मंदिर में दर्शन करने के लिए अब इंटर-स्टेट / यूटी पास की जरूरत नहीं होगी. यात्रा का ऑनलाइन पंजीकरण पहले की तरह जारी रहेगा. बाहर से आने वाले यात्रियों की संख्या व घोड़ा, पालकी सेवा शुरू करने का फैसला श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीइओ हालात की समीक्षा करने के बाद करेंगे.'

इससे पहले, केंद्र शासित प्रदेशों में रेड से ऑरेंज ज़ोन की यात्रा करने वाले लोगों के लिए परीक्षण अनिवार्य था. अब सभी क्षेत्र ऑरेंज हैं, इसलिए अब क्षेत्र में आवाजाही के लिए किसी भी परीक्षण की आवश्यकता नहीं है. वहीं, अन्य राज्यों से विमान, रेलगाड़ी व सड़क मार्ग से आने वाले यात्रियों के कोरोना टेस्ट पहले की तरह ही होते रहेंगे.





मंदिर में दर्शन करने के लिए खास नियम
- 3 वर्ष से छोटे बच्चों और 65 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों को यात्रा के लिए अनुमति नहीं दी जाएगी.
- कोरोना संदिग्धों को स्वास्थ्य जांच से गुजरना होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज