Jammu & Kashmir : फॉरवर्ड इलाकों का जायजा लेने पहुंचे आर्मी चीफ, ताबड़तोड़ चल रहा है एंटी टेररिस्ट ऑपरेशन

जम्मू कश्मीर के फॉरवर्ड इलाकों में पहुंचे आर्मी चीफ.

जम्मू कश्मीर के फॉरवर्ड इलाकों में पहुंचे आर्मी चीफ.

जम्मू-कश्मीर में इस महीने सेना और पुलिस ने 10 से ज्यादा आतंकवादियों को अलग-अलग ऑपरेशन में ढेर किया है. ऐसे में सेना के ऑपरेशन और राज्य में सिक्योरिटी बंदोबस्त का जायजा लेने आर्मी चीफ जनरल एम एम नरवणे पहुंचे. उन्हें फॉरवर्ड इलाकों का भी निरीक्षण किया.

  • Share this:

जम्मू-कश्मीर. भारतीय थलसेना अध्यक्ष (Army Chief) जनरल एम एम नरवणे (MM Narvane) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) जाकर वहां के हालात का जायजा लिया है. पिछले कुछ दिनों से जम्मू-कश्मीर में चल रही आतंकी गतिविधियां और सेना से लगातार हो रही उनकी मुठभेड़ के बाद आर्मी चीफ खुद वहां पहुंचे हैं. वो सुरक्षा व्यवस्था के जमीनी हालात का निरीक्षण करने फॉरवर्ड एरिया में भी पहुंचे और वहां तैनात सेना की टुकड़ियों से बातचीत की. आर्मी चीफ एम एम नरवणे अखनूर, रजौरी और नौशेरा सेक्टर्स में पहुंचे और यहां चल रहे हालात पर रिपोर्ट ली. आपको बता दें कि पिछले कई दिनों से जम्मू-कश्मीर में अलग-अलग इलाकों में हुई मुठभेड़ में सेना के लश्कर-ए-तैयबा समेत कई आतंकी संगठनों के गुर्गों को ठिकाने लगाया है. जिसके बाद चल रहे तनाव पर वास्तविक स्थिति जानने खुद थल सेनाध्यक्ष वहां पहुंचे हैं.

मंगलवार को अनंतनाग में मारे गए 3 आतंकी

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में मंगलवार को आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच एनकाउंटर हुआ, जिसमें तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया. कश्मीर जोन पुलिस ने ट्विटर पर मामले की जानकारी देते हुए बताया कि एनकाउंटर जिले के कोकरनाग इलाके के वायलू में चल रहा था और सुरक्षाबलों के साथ पुलिस ने मिलकर इस ज्वाइंट ऑपरेशन को अंजाम दिया. हमले में मारे गए सभी आतंकी लश्कर-ए-तैयबा (LeT) से जुड़े हुए थे. सुरक्षाबलों पर इन आतंकवादियों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं लेकिन जवाबी कार्रवाई में इन्हें मुंह की खानी पड़ी.

Youtube Video

ग्रेनेड हमला भी किया गया

मंगलवार को ही जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में कुछ संदिग्ध आतंकवादियों ने पुलिस की टुकड़ी को निशाना बनाने के मकसद से ग्रेनेड हमला किया. हालांकि इस हमले में किसी के भी घायल होने की सूचना नहीं है. ये हमला मंगलवार रात को वाहनों की चेकिंग के दौरान किया गया, लेकिन ग्रेनेड के गलत जगह पर गिरकर फटने से किसी को भी चोट नहीं आई. अब पुलिस आतंकवादियों की तलाश में जुटी हुई है.

6 मई को भी मारे गए थे 3 आतंकी



इससे पहले 6 मई को भी शोपियां जिले में एक एनकाउंटर के दौरान सुरक्षाबलों ने 3 आतंकियों को ढेर कर दिया, जबकि एक आतंकवादी से सरेंडर कराया गया था. एनकाउंटर दक्षिण कश्मीर के कनिगाम इलाके में हुआ था और ये आतंकी स्थानीय थे. अल-बद्र संगठन के 4 स्थानीय आतंकवादियों की मौजूदगी का पता चलते ही सुरक्षाबलों ने उन्हें सरेंडर के लिए मनाने की कोशिश की. इनमें से एक आतंकी ने फायरिंग बंद कर सरेंडर कर दिया, जबकि बाकी 3 मारे गए. इस संगठन के एक आतंकी को पिछले महीने गिरफ्तार किया गया था, जिसकी निशानदेही पर हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए थे. मार्च में भी अल बद्र संगठन के डिवीजनल कमांडर गनी ख्वाजा को ढेर किया गया था .

5 महीने में 70 से ज्यादा आतंकी ढेर

इस साल एंटी टेररिस्ट ऑपरेशन के तहत अलग-अलग जगह पर हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 70 से ज्यादा आतंकियों को ढेर किया है. सबसे ज्यादा आतंकी अप्रैल महीने में मारे गए हैं. जबकि मई में भी अब तक 12 आतंकवादियों को मौत की नींद सुलाया जा चुका है. सुरक्षाबलों की पहली कोशिश होती है कि स्थानीय आतंकियों से सरेंडर करा लिया जाए, लेकिन जो इसके लिए नहीं मानते और गोलीबारी जारी रखते हैं, उन्हें ढेर कर दिया जाता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज