जम्मू-कश्मीर में कोविड पीड़ितों के लिए बड़ी राहत का ऐलान

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा

लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) ने कहा कि सरकार और प्रशासन ऐसे हर परिवार के पास जाएगा, जिनके घरों में कोविड के चलते मौतें हुई हैं. ऐसे लोगों और परिवारों की मुश्किलें कम करने के लिए मनोज सिन्हा ने कई ऐलान किए हैं.

  • Share this:

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) ने कोविड पीड़ित परिवारों के लिए राहत का ऐलान किया है. मनोज सिन्हा ने इस बात का ध्यान रखा है कि जिन परिवारों ने अपनों को खोया है उन्हें ज्यादा प्राथमिकता मिले. लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा ने कहा कि सरकार और प्रशासन ऐसे हर परिवार के पास जाएगा, जिनके घरों में कोविड के चलते मौतें हुई हैं. ऐसे लोगों और परिवारों की मुश्किलें कम करने के लिए मनोज सिन्हा ने कई ऐलान किए हैं.

वृद्ध लोगों के लिए आजीवन पेंशन का ऐलान

जिन्होंने अपने परिवार के कमाने वाले सदस्य खोए हैं. जिन बच्चों ने अपने माता पिता या फिर अभिभावक खोए हैं उन्हें विशेष छात्रवृत्ति दी जाएगी. कश्मीर सरकार ऐसे हर परिवार तक जाएगी जिन्होंने अपनों को खोया है. और उन्हें स्व रोजगार के लिए वित्तीय मदद देगी. सभी पंजीकृत कंस्ट्रक्शन वर्कर, पोनीवाले, पालकीवाले, पीठूवालों के लिए अगले दो महीने तक उनके खाते में 1000 रुपये सरकार देगी. डिविजन और जिला कमिश्नरों और राज्य पुलिस को राज्य विपदा सहायता फंड के तहत 55 करोड़ की राशि आवंटित की गयी है जिसका इस्तेमाल वो इमरजेंसी में कर सकते हैं.

लेफ्टिनेंट गवर्नर ने की उच्च स्तरीय बैठक
मनोज सिन्हा ने कोरोना राहत को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की. बैठक में मनोज सिन्हा ने कहा कि वो कश्मीर के लोगों की जन भागीदारी से ही कोरोना जैसी महामारी पर जीत पाना चाहते हैं. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश भी दिए कि वो अपनी पूरी ताकत लगाकर तमाम राशन कार्ड धारकों को राशन मुहैया कराएं. साथ ही केंद्र सरकार की तमाम योजनाओं के तहत आवंटित पैसे लोगों तक पहुंचाएं. मनोज सिन्हा ने निर्देश दिए कि पूरे जम्मू कश्मीर में कोरोना कर्फ्यू सख्ती से लगाया जाए ताकि इसकी चेन तोड़ी जा सके.

Youtube Video

मनोज सिन्हा जानते हैं कश्मीर में मोदी सरकार का मानवीय चेहरा सामने लाना ही राज्य सरकार और प्रशासन की पहली प्राथमिकता है. इसलिए साफ है कि जम्मू-कश्मीर उन पहले राज्यों में से एक है जिन्होंने कोरोना महामारी से पीड़ित आम आदमी के लिए राहत का ऐलान किया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज