Home /News /nation /

जम्मू-कश्मीर के भाजपा नेता पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप, FIR दर्ज

जम्मू-कश्मीर के भाजपा नेता पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप, FIR दर्ज

जम्मू-कश्मीर के भाजपा नेता पर धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर के भाजपा नेता पर धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है (फाइल फोटो)

T-20 World Cup: विक्रम रंधावा के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई का आदेश देने वाले पार्टी की जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष रवींद्र रैना ने कहा कि रंधावा की टिप्पणी सुनकर वह व्यक्तिगत तौर पर आहत हुए. उन्होंने कहा कि उनकी टिप्पणी पार्टी के मूल सिद्धांतों के खिलाफ है क्योंकि यह सभी धर्मों का सम्मान करने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’ के नारे में विश्वास करती है.

अधिक पढ़ें ...

    श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में भारतीय जनता पार्टी (Jammu Kashmir BJP) के एक वरिष्ठ नेता के खिलाफ कथित रूप से एक समुदाय की धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई, जिसके बाद पार्टी ने उनसे जम्मू-कश्मीर सचिव समेत अन्य सभी जिम्मेदारियां ले ली. पूर्व विधान पार्षद विक्रम रंधावा का दुबई में हुए टी-20 क्रिकेट विश्व कप (T-20 World Cup) में भारत के खिलाफ मैच में पाकिस्तान को मिली जीत के बाद जश्न मनाने की घटनाओं पर ‘अपमानजनक टिप्पणी’ का वीडियो सामने आने के बाद उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई. एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘ रंधावा के खिलाफ यहां एक पुलिस थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 295-क और 505 (2) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है और आगे की जांच जारी है.’’

    जम्मू-कश्मीर में भाजपा के अध्यक्ष रविंद्र रैना ने एक आदेश पत्र में कहा, ‘‘ रंधावा को तत्काल प्रभाव से जम्मू-कश्मीर-केंद्रशासित प्रदेश के सचिव पद समेत अन्य सभी पदों और जिम्मेदारियों से मुक्त किया जाता है.’’ पार्टी की ओर से जारी आदेश में कहा गया कि भाजपा जम्मू-कश्मीर केंद्रशासित प्रदेश के उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री शाम चौधरी रंधावा की जगह राजौरी जिले के नए प्रभारी होंगे. पार्टी की जम्मू-कश्मीर इकाई ने रंधावा के इस वीडियो का संज्ञान लिया और उन्हें सोमवार को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए उन्हें सार्वजनिक रूप से माफी मांगने को कहा है. सुनील सेठी की अध्यक्षता वाली भाजपा अनुशासन समिति ने उनसे 48 घंटे के भीतर अपनी स्थिति स्पष्ट करने के लिए कहा है.

    ये भी पढ़ें- हिमाचल उपचुनाव में भाजपा को लगा जोरदार झटका, कांग्रेस ने किया ‘क्लीन स्वीप’

    नोटिस में कहा गया, “सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें आप एक खास समुदाय के खिलाफ नफरत फैलाने वाले बयान देते नजर आ रहे हैं. यह पार्टी के लिए अस्वीकार्य है और इससे पार्टी की बदनामी हुई और शर्मिंदगी उठानी पड़ी.” रंधावा के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई का आदेश देने वाले पार्टी की जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष रवींद्र रैना ने कहा कि रंधावा की टिप्पणी सुनकर वह व्यक्तिगत तौर पर आहत हुए. उन्होंने कहा कि उनकी टिप्पणी पार्टी के मूल सिद्धांतों के खिलाफ है क्योंकि यह सभी धर्मों का सम्मान करने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’ के नारे में विश्वास करती है.

    उमर अब्दुल्ला ने कही ये बात
    वहीं नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘‘ उन्हें एक उदाहारण बनाया जाना चाहिए और कानून को इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए ताकि बाकी लोगों को ऐसा करने से रोका जा सके.’’

    ये भी पढ़ें- WHO के अप्रूवल की कगार पर खड़ी कोवैक्सीन, कल हो सकता है बड़ा फैसला

    भाजपा प्रवक्ता सुनील सेठी ने कहा कि अनुशासन समिति ने रंधावा के गैरजिम्मेदारानापूर्ण बयान के भारी असर और पार्टी की बदनामी के मद्देनजर अंतरिम रिपोर्ट दी है.

    उन्होंने कहा कि रिपोर्ट में अनुशासनात्मक कार्रवाई पूरा होने तक उन्हें पार्टी के सभी आधिकारिक पदों से तुरंत मुक्त करने की सिफारिश की गई थी. उन्होंने बताया कि जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष रैना इस रिपोर्ट पर सहमत हुए और बिना समय गंवाए रंधावा के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्णय लिया क्योंकि पार्टी सभी धर्मों खासतौर पर महिलाओं को सम्मान देने में विश्वास करती है. और यह पार्टी को स्वीकार नहीं है कि पार्टी में उच्च पद पर आसीन व्यक्ति ऐसा बयान दे सकता है, जिससे किसी की भी धार्मिक भावनाएं आहत हो सकती है.

    उन्होंने रंधावा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने का स्वागत किया.

    Tags: Icc T20 world cup, Jammu kashmir, Narendra modi, Omar abdullah, Pakistan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर