लाइव टीवी

राज्‍यसभा : जम्‍मू-कश्‍मीर, CAA से लेकर जीएसटी और इकोनॉमी तक, पढ़ें PM मोदी के भाषण की 10 खास बातें

News18Hindi
Updated: February 6, 2020, 7:42 PM IST
राज्‍यसभा : जम्‍मू-कश्‍मीर, CAA से लेकर जीएसटी और इकोनॉमी तक, पढ़ें PM मोदी के भाषण की 10 खास बातें
पीएम मोदी ने राज्‍यसभा में सीएए और जम्‍मू कश्‍मीर पर विपक्ष को जमकर घेरने की कोशिश की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने राज्‍यसभा (Rajya Sabha) में नागरिकता कानून (CAA), जीएसटी (GST), इकोनॉमी, UDAAN स्कीम और नार्थ ईस्‍ट समेत कई मुद्दों पर विपक्ष को घेरने की कोशिश की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 6, 2020, 7:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राज्‍यसभा में राष्‍ट्रपति के अभिभाषण पर धन्‍यवाद प्रस्‍ताव पर बहस का जवाब दिया. जम्‍मू -कश्‍मीर में क्‍या-क्‍या बदल गया, नागरिकता कानून, जीएसटी, 5 ट्रिलियन इकोनॉमी, UDAAN स्कीम और नार्थ ईस्‍ट समेत कई मुद्दों पर पीएम मोदी ने विपक्ष को घेरने की कोशिश की.

PM के भाषण की 10 खास बातें

CAA पर पीएम ने कही ये बात
सीएए पर पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोगों ने हिंसा को ही आंदोलन का अधिकार मान लिया गया. हिंसा को प्रदर्शन का नाम दे दिया गया. बार-बार संविधान की दुहाई देते हैं. मैं कांग्रेस की मजबूरी को समझता हूं. पीएम ने कहा कि केरल के सीएम कहते हैं कि नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन में चरमपंथी तत्वों का हाथ है. उन्होंने इनके खिलाफ कार्रवाई की बात भी कही है. लेकिन आश्चर्य होता है कि वे केरल में जिस चीज का विरोध करते हैं दिल्ली में उसका समर्थन करते हैं.

उन्‍होंने कहा कि नागरिकता कानून को लेकर जो कुछ भी कहा या प्रचारित किया जा रहा है. इसे लेकर सभी साथियों को खुद से सवाल पूछना चाहिए. क्या देश को भ्रमित करना और गलत सूचना देना सही है. क्या कोई इस मुहिम का हिस्सा हो सकता है. लोगों को भटकने से हमें रोकना चाहिए या नहीं. ये रास्‍ता सही नहीं है. इस मुद्दे पर देश को डराने की बजाय सही जानकारी दी जाए, ये हम सबका दायित्‍व है.

GST हमारा अचीवमेंट
पीएम ने कहा कि जीएसटी भारत के फेडरल स्ट्रक्चर का एक बहुत बड़ा अचीवमेंट है. अब राज्यों की भावनाओं का उसमें प्रकटीकरण होता है. हमारा मत है कि जहां समयानुकूल परिवर्तन आवश्यक हैं, परिवर्तन करने चाहिए. उन्‍होंने कहा कि अगर हम बदलाव की बात करते हैं, तो कभी कहा जाता है कि बार बार बदलाव क्यों? हमारे महापुरुषों ने इतना महान संविधान दिया, उसमें भी उन्होंने सुधार की व्यवस्था रखी है. हर व्यवस्था में सुधार का हमेशा स्वागत होना चाहिए.
पीएम मोदी ने कहा कि जीएसटी देश के लिए अचीवमेंट है.


UDAAN स्कीम के तहत 250वां रूट शुरू
पीएम ने कहा कि उड़ान स्कीम के तहत हाल ही में 250वां रूट शुरू हुआ है, इस क्षेत्र में बदलाव की गति तेज है. हमारे पास पहले 65 कार्यरत एयरपोर्ट थे आज इनकी संख्या 100 पहुंच गई है.

नार्थ ईस्‍ट का आंदोलन खत्‍म हुआ: पीएम
पीएम ने कहा कि मैं अपडेट करना चाहूंगा कि नार्थ-ईस्ट अभूतपूर्व शांति के साथ आज भारत की विकास यात्रा का एक अग्रिम भागीदार बना है. 40-50 साल से वहां जो हिंसक आंदोलन चलते थे, आज वो आंदोलन बंद हुए हैं और शांति की राह पर पूरा नार्थ-ईस्ट आगे बढ़ रहा है.

5 ट्रिलियन डॉलर का लक्ष्‍य हासिल करेंगे
प्रधानमंत्री ने कहा कि कोई भी देश छोटी सोच से आगे नहीं बढ़ सकता. देश का युवा भी हमसे अपेक्षा करता है. इसी बेस पर हम 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी का लक्ष्‍य लेकर चल रहे हैं. हमें आशावादी रहना है. देश में निराश होने का कोई कारण नहीं है. अर्थव्यवस्था के जो बेसिक मानदंड है, उनमें आज भी देश की अर्थव्यवस्था सशक्त है, मजबूत है और आगे जाने की ताकत रखती है. विपक्ष भी 5 ट्रिलियन डॉलर को लेकर निशाना साधता है. इसी बहाने विपक्ष में भी 5 ट्रिलियन को लेकर विश्‍वास पैदा हुआ है. पीएम ने कहा- पिछले सत्र में बहुत काम हुआ

कश्‍मीर में क्‍या-क्‍या बदला. इस बारे में पीएम मोदी ने विस्‍तार से बताया.


पीएम ने बताया कश्‍मीर में क्‍या क्‍या बदला
पीएम ने कहा- कश्‍मीरियों को आरक्षण का लाभ मिला. जम्‍मू-कश्‍मीर पर पीएम मोदी ने कहा कि 20 जून 2018 से नई व्यवस्था बनी, फिर राष्ट्रपति शासन आया. पहली बार गरीब सामान्य वर्ग को कश्मीर में आरक्षण का लाभ मिला. पहाड़ी भाषी लोगों को आरक्षण का लाभ मिला. महिलाओं को राज्य के बाहर शादी करने पर संपत्ति न छीने जाने का अधिकार मिला. पहली बार रेरा का कानून लागू हुआ. पहली बार स्टार्ट अप पॉलिसी लागू हुई. पहली बार एंटी करप्शन ब्यूरो की स्थापना हुई. पहली बार सीमा पार से हुई फंडिंग पर नियंत्रण कायम हुआ. पहली बार आतंकवाद और आतंकियों के खिलाफ जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना मिलकर कार्रवाई कर रहे हैं.

पीएम ने कहा कि जम्मू-कश्मीर पुलिस को भत्तों का लाभ मिला जो अन्य को मिलता है, LTC लेकर अन्य राज्यों में घूमने भी जा सकते हैं. 4400, 35000 से ज्यादा पंचों और सरपंचों के लिए शांतिपूर्ण चुनाव हुआ. 3,30,000 घरों को बिजली कनेक्शन मिला. साढ़े तीन लाख लोगों को आयुष्मान योजना के गोल्ड कार्ड बांटे गए. वृद्ध जनों को पेंशन स्कीम से जोड़ा गया.

उन्‍होंने कहा कि इससे पहले पीएम आवास योजना के तहत साढ़े तीन हज़ार मकान बने थे. अब इसी योजना के तहत 18 महीने में 24 हज़ार से ज्यादा मकान बन चुके हैं. कनेक्टिविटी और असप्तालों के सुधार की योजनाओं को आगे बढ़ाया जा रहा है. वाइको जी ने इसे ब्लैक डे बताया लेकिन ये आतंक को बढ़ावा देने वालों के लिए ब्लैक डे है. कश्मीरियों के लिए ये एक नई आशा की किरण है.

पीएम ने लाल बहादुर शास्‍त्री की बातें दोहराईं
पीएम ने कहा, 'जहां तक ईस्ट पाकिस्तान का ताल्लुक है, उसका ये फैसला मालूम होता है कि वहां से नॉन मुस्लिम जितने हैं, सब निकाल दिए जाएं, वो एक इस्लामिक स्टेट है. इस्लामिक स्टेट के नाते वो सोचता है कि वहां इस्लाम को मानने वाले ही रह सकते हैं. गैर इस्लामी लोग नहीं रह सकते हैं.' वहां से हिंदू-ईसाई निकाले जा रहे हैं. बौद्ध भी वहां से निकाले जा रहे हैं. ये शब्द उस महापुरुष के हैं जो देश के प्रिय प्रधानमंत्री रहे हैं, ये श्रद्धेय लाल बहादुर शास्त्री जी के हैं.

पीएम ने लाल बहादुर शास्‍त्री को लेकर विपक्ष पर निशाना साधा.


पीएम मोदी ने कहा कि अब आप उन्हें भी कम्युनल कह देंगे, उन्हें भी आप डिवाडर कह देंगे. ये बयान शास्त्री जी ने संसद में 3 अप्रैल 1964 को दिया था. कांग्रेस और उसके साथी इस देश के राष्ट्र निर्माताओं को भी वोटबैंक की राजनीति के कारण भूलने लगे हैं, ये चिंता का विषय है.

पीएम ने राम मनोहर लोहिया को लेकर कही ये बात
पीएम ने कहा कि राम मनोहर लोहिया जी ने कहा था कि हिंदुस्तान का मुसलमान जिए और पाकिस्तान का हिंदू जिए, मैं इस बात को बिल्कुल ठुकराता हूं कि पाकिस्तान के हिंदू, पाकिस्तान के नागरिक हैं इसलिए हमें उनकी परवाह नहीं करनी है. पाकिस्तान का हिंदू चाहे कहीं का भी नागरिक हो, उसकी रक्षा करना हमारा उतना ही कर्तव्य है, जितना हिंदुस्तान के किसी हिंदू या मुसलमान का. हमारे समाजवादी साथी हमें माने न माने, लेकिन अब लोहिया जी को नकारने का काम न करे.

छोटे शहरों में ज्‍यादा हो रहा डिजिटल ट्रांजेक्‍शन: पीएम
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज छोटे स्थानों पर डिजिटल ट्रांजेक्शन सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है और आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर के निर्माण में भी टियर-2, टियर-3 शहर आगे बढ़ रहे हैं. देश तेजी से बदलाव को स्वीकार कर रहा है. भारत का रुपे कार्ड दुनिया में अपनी जगह बना रहा है यह हम सभी के लिए गर्व का विषय है.

जो लोग NPR लेकर आए थे अब वही विरोध कर रहे: PM
प्रधानमंत्री ने कहा कि जनगणना और एनपीआर सामान्‍य गतिविधियां हैं जो देश में पहले भी होती रही हैं. लेकिन वोटबैंक के लिए खुद वर्ष 2010 में एनपीआर को लाने वाले आज लोगों में भ्रम फैला रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस और उनके साथी देश के राष्‍ट्र निर्माताओं को भी वोटबैंक की राजनीति के कारण भूलने लगे हैं, ये चिंता का विषय है.

पीएम ने राज्‍यसभा में कहा कि हमारे पास आपके एनपीआर का रिकॉर्ड है. हम लोग 2014 से यहां पर हैं. आपके 2010 के एनपीआर के आधार पर किसी को तंग नहीं किया गया. तत्‍कालीन गृहमंत्री ने एनपीआर को मीडिया में प्रचारित करने के लिए कहा था. अब जब आप सत्‍ता से बाहर हुए उस वक्‍त करोड़ों लोगों के फोटो स्‍कैन किए जा चुके थे. बायोमैट्रिक शुरू हो चुका था. हमने इस एनपीआर का इस्‍तेमाल गरीबों तक सरकार की कल्‍याणकारी योजनाओं को पहुंचाने के लिए किया. लेकिन अब आप ही इसका विरोध कर रहे हैं. पीएम ने कहा कि हम एनपीआर रिकॉर्ड को वर्ष 2021 की जनगणना के साथ अपडेट करना चाहते हैं.

 

ये भी पढ़ें: -

राज्‍यसभा: पीएम मोदी ने बताया J&K में क्‍या बदला, कैसे नॉर्थ ईस्‍ट में हिंसक आंदोलन रुके

संसद में राहुल का नाम लिए बिना PM का तंज- कुछ ट्यूबलाइट में करंट देर से पहुंचता है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 7:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर