• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • जम्मू-कश्मीर धर्म परिवर्तन केस: एक सिख युवती ने परिवार के खिलाफ खटखटाया हाईकोर्ट का दरवाजा, मांगी सुरक्षा

जम्मू-कश्मीर धर्म परिवर्तन केस: एक सिख युवती ने परिवार के खिलाफ खटखटाया हाईकोर्ट का दरवाजा, मांगी सुरक्षा

दो लड़कियों को अगवा कर उनका बलपूर्वक धर्मांतरण और शादी करने के खिलाफ श्रीनगर में प्रदर्शन करते सिख समुदाय के लोग.

दो लड़कियों को अगवा कर उनका बलपूर्वक धर्मांतरण और शादी करने के खिलाफ श्रीनगर में प्रदर्शन करते सिख समुदाय के लोग.

J&K Conversion Case: सिख युवती ने कहा है कि उसने अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन करके मुसलमान व्यक्ति से निकाह किया है.

  • Share this:

    श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में कथित रूप से जबरन धर्म परिवर्तन का शिकार हुई चार में से एक सिख युवती ने उच्च न्यायालय की शरण लेते हुए अपने परिवार और पुलिस द्वारा दंडात्मक कार्रवाई से सुरक्षा की मांग की है. युवती ने कहा है कि उसने अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन करके मुसलमान व्यक्ति से निकाह किया है. इस साल 20 जनवरी को इस्लामिक रीति-रिवाज से मंजूर अहमद भट से निकाह करके वीरन पाल कौर से खदीजा बनी युवती ने इस साल मई में उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया.


    न्यायमूर्ति अली मोहम्मद मगरे ने 20 मई को पुलिस को निर्देश दिया कि वह सुनिश्चित करे कि युवती के माता-पिता रतन सिंह और पोपिंदर कौर या उनकी ओर से कोई भी व्यक्ति दंपति पर हमला ना करे, उन्हें प्रताड़ित, उनका अपहरण ना करे या उन्हें नुकसान ना पहुंचाए. आदेश में कहा गया है, ‘और उन्हें अपना दांपत्य जीवन अपने अनुसार जीने की आजादी दी जाए तथा भारत के संविधान के तहत प्राप्त उनके अधिकारों की रक्षा की जाए.’


    अब रायबरेली में ईसाई बनाने की कोशिश, हिन्दू देवी- देवताओं को शक्तिहीन बता रहे थे आरोपी


    26 वर्षीय युवती और उसके 31 वर्षीय पति ने फरवरी, 2021 में बडगाम जिले के नोटरी के समक्ष अपने निकाह को सार्वजनिक किया. उन्होंने अदालत को बताया कि वे बंजारों की जिंदगी जीने को मजबूर हैं क्योंकि युवती के माता-पिता ने मंजूर के खिलाफ जम्मू के सतवारी थाने में शिकायत दर्ज कराई हुई है. अदालत ने सतवारी के थाना प्रभारी को निर्देश दिया है कि वह शिकायत के आधार पर कोई कार्रवाई ना करें. उसने बडगाम के पुलिस प्रमुख से भी कहा है कि वह निर्देशों का अक्षरश: पालन सुनिश्चित करें.


    धर्मांतरण केस में बड़ा खुलासा: ‘अल्लाह के बंदे’ समेत 7 कोड वर्ड में से 6 को UP ATS ने क‍िया डिकोड, 10 खास बातें


    वहीं कश्मीर में सिखों ने ऐसे अंतर-धर्म विवाह के विरुद्ध प्रदर्शन किया और आरोप लगाया कि सिख युवतियों का जबरन उम्रदराज लोगों से विवाह कराया जा रहा है. प्रदर्शन में शामिल होने के लिए रविवार को यहां पहुंचे शिरोमणि अकाली दल के नेता मनजिंदर एस. सिरसा ने कहा कि उन्होंने इस मुद्दे को जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और केंद्री गृह मंत्री अमित शाह के समक्ष उठाया है.




    सिरसा ने सोमवार को कहा, ‘हम दो दिन से प्रदर्शन कर रहे हैं चार लड़कियों का जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया है जिनमें एक 18 साल की है और उसका निकाह प्रौढ़ व्यक्ति से कराया गया है. कहा जा रहा है कि उसने अपनी मर्जी से शादी की है.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज