कश्मीर के औचक दौरे पर पहुंचे एस जयशंकर, ईरान में फंसे लोगों के परिजन से की मुलाकात

कश्मीर के औचक दौरे पर पहुंचे एस जयशंकर, ईरान में फंसे लोगों के परिजन से की मुलाकात
विदेश मंत्री एस जयशंकर

एस जयशंकर (S Jaishankar) ने बताया कि विदेश मंत्री सोमवार सुबह औचक दौरे पर कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) पहुंचे. जयशंकर ने यहां डल झील के किनारे स्थित कश्मीर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन परिसर (Kashmir International Conference Complex) में लोगों से मुलाकात की.

  • Share this:
श्रीनगर. विदेश मंत्री (Foreign Minister) एस जयशंकर (S Jaishankar) सोमवार को औचक दौरे पर कश्मीर (Kashmir) पहुंचे और ईरान (Iran) में फंसे लोगों व छात्रों के परिजन से मुलाकात की. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री (Central Government Minister) सेना के एक वरिष्ठ कमांडर से घाटी में सुरक्षा व्यवस्था (Security Arrangement) की भी जानकारी लेंगे.

ईरान में फंसे लोगों के 100 परिजनों से की मुलाकात
एस जयशंकर ने बताया कि विदेश मंत्री सोमवार सुबह औचक दौरे पर घाटी पहुंचे. जयशंकर ने यहां डल झील के किनारे स्थित कश्मीर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन परिसर (Kashmir International Conference Complex) में लोगों से मुलाकात की.
अधिकारियों ने बताया कि ईरान में फंसे लोगों के करीब 100 परिजन (Parents) परिसर में एकत्र हुए थे. उन्होंने बताया कि ईरान में फंसे कश्मीरी छात्रों और कोम शहर में फंसे जायरीनों के परिजन ने केंद्र से जल्द से जल्द उन्हें हवाई जहाज (Plane) द्वारा वापस लाने की मांग की. इसके बाद जयशंकर ने उन्हें सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों से अवगत कराया.



भारतीय उच्चायोग ईरान में भारतीय मछुआरों से लगातार संपर्क में
विदेश मंत्री ने रविवार को कहा था कि ईरान (Iran) से भारतीयों को वापस लाने के लिए प्रयास जारी हैं. जयशंकर ने ट्विटर पर लिखा था कि ईरान के कोम (Qom) में फंसे जायरीनों को भारत वापस लाने के प्रयास किए जा रहे हैं. स्क्रीनिंग की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है और अन्य तैयारियों को लेकर ईरानी अधिकारियों से चर्चा की जा रही है. उन्होंने लिखा कि ईरान में भारतीय उच्चायोग इस बारे में गंभीरता से काम कर रहा है.

जयंशकर ने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'भारतीय उच्चायोग (Indian High Commission) ईरान में भारतीय मछुआरों से लगातार करीबी संपर्क में है और अब तक उनके बीच कोरोना वायरस से संक्रमण का कोई भी मामला सामने नहीं आया है. हम उनके लिए आपूर्ति को सुनिश्चित कर रहे हैं और उनके कल्याण की निगरानी जारी रखेंगे.'

विदेश मंत्री ने कश्मीर में पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों से भी की बातचीत
अधिकारियों ने बताया कि परिजन से मुलाकात के बाद विदेश मंत्री ने पर्यटन उद्योग (Tourism Industry) से जुड़े लोगों से भी बातचीत की. इस दौरान, लोगों ने उद्योग के समक्ष आने वाली समस्याओं को उठाया.

जयशंकर ने यहां मौजूद बुलेवार्ड इलाके में स्थित क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय (Regional Passport Office) का दौरा कर कामकाज का जायजा लिया. अधिकारियों ने बताया कि केंद्रीय मंत्री उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले (Baramulla District) में पासपोर्ट सेवा केंद्र का भी दौरा करेंगे. जयशंकर बारामुला के दोपहर बाद दिल्ली लौटेंगे.

यह भी पढ़ें: COVID19: केजरीवाल बोले अब दिल्ली में लाउडस्पीकर से फैलाएंगे जागरूकता
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading