Home /News /nation /

jammu kashmir governor lt manoj sinha order investigation against use of force on pandits

कश्मीरी पंडितों के खिलाफ लाठीचार्ज और आंसू गैस के इस्तेमाल पर जांच के आदेश, जम्मू-कश्मीर सरकार ने बनाई SIT

सेना ने 24 घंटे के अंदर राहुल भट्ट की हत्या का बदला ले लिया. (फाइल फोटो)

सेना ने 24 घंटे के अंदर राहुल भट्ट की हत्या का बदला ले लिया. (फाइल फोटो)

Kashmiri Pandit employee security news: सरकारी नौकरी करने वाले जम्मू-कश्मीर के पंडितों ने अपने साथी राहुल भट्ट की हत्या के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था. उनके प्रदर्शन पर पुलिस ने भारी बल प्रयोग किया. जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने इस बात को गंभीरता से लेते हुए इसकी जांच के आदेश दिए हैं.

अधिक पढ़ें ...

श्रीनगर. कश्मीरी पंडित कर्मचारी राहुल भट्ट की हत्या के विरोध में प्रदर्शन कर रहे उनके सहयोगियों पर बल प्रयोग का मामला गरमाने के बाद सरकार ने इसकी जांच कराने का फैसला किया है. कश्मीरी पंडित कर्मचारियों को सुरक्षा प्रदान करने में प्रशासन की कथित विफलता और हत्या के खिलाफ जम्मू-कश्मीर में कई स्थानों पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने शुक्रवार को बडगाम के शेखपुरा में प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े थे. इस मामले को लेकर जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा खुद सामने आए हैं और उन्होंने कश्मीरी पंडित कर्मचारियों के खिलाफ किए गए कथित बल प्रयोग की जांच के आदेश दिए हैं. सरकार ने राहुल भट्ट की हत्या की जांच के आदेश दिए हैं और इसके लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है.

राहुल भट्ट की हत्या के जरिए लोगों में भय का माहौल बनाने की कोशिश
उपराज्यपाल सिन्हा ने रविवार को कहा, राहुल भट्ट की हत्या के जरिए लोगों में भय और आतंक का माहौल बनाने की कोशिश की गयी. वह बहुत अच्छा कर्मचारी था. हमने इस मामले की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन किया है. एसआईटी सभी पहलुओं से इस मामले की जांच करेगी. उन्होंने कहा कि एसआईटी प्रदर्शनकारियों पर बल प्रयोग की भी जांच करेगी. सिन्हा ने कहा, कश्मीरी पंडितों पर बल प्रयोग के इस्तेमाल की भी जांच की जाएगी. एक सप्ताह के भीतर इनकी तैनाती सुरक्षित स्थानों पर कर दी जाएगी. उनकी कुछ और शिकायतें हैं, उन पर भी गौर किया जाएगा. हम उनके दर्द और समस्याओं को समझते हैं.

कश्मीरी पंडित कर्मचारियों को सुरक्षा दी जाएगी
उन्होंने कहा कि कश्मीरी पंडित कर्मचारी जहां भी रहेंगे, प्रशासन की ओर से उनकी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे. उपराज्यपाल ने कहा कि उन्होंने प्रशासन को निर्देश दिया है कि कश्मीरी पंडित कर्मचारियों के खिलाफ बल प्रयोग की कोई जरूरत नहीं है. गौरतलब है कि राहुल भट्ट की लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादियों ने गुरुवार को हत्या कर दी थी. उन्होंने कश्मीरी पंडित कर्मचारियों से कुछ समय के लिए धैर्य रखने की अपील करते हुए उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी सभी समस्याओं का समाधान किया जाएगा. सिन्हा ने कहा कि कुछ लोग कश्मीर में शांति भंग करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन प्रशासन इस मुद्दे को बहुत गंभीरता से ले रहा है.


राहुल भट्ट की हत्या में शामिल लोगों का सामाजिक बहिष्कार

उन्होंने कहा, मैं सभी राजनेताओं और राजनीतिक दलों के साथ-साथ आम लोगों से भी अपील करता हूं कि यह एकजुट रहने का समय है ताकि शांतिपूर्ण माहौल बना रहे. कुछ लोग जम्मू-कश्मीर का माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि उनकी कोशिश कामयाब नहीं होगी. राहुल भट्ट की हत्या में शामिल दो आतंकवादियों को मार गिराया गया है. पुलिस अन्य आतंकवादियों की तलाश कर रही है. उपराज्यपाल ने कहा, मैं सभी राजनीतिक दलों से अपील करता हूं कि इन हत्याओं की घटनाओं में शामिल तत्वों के सामाजिक बहिष्कार की अपील जारी करें.

Tags: Jammu and kashmir, Kashmiri Pandit, Rahul Bhat

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर