अपना शहर चुनें

States

J&K: अनंतनाग में IED ब्लास्ट, CRPF वाहन को बनाना चाहते थे निशाना; कोई हताहत नहीं

जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ 
वाहन पर हमला (फाइल फोटो)
जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ वाहन पर हमला (फाइल फोटो)

Anantnag IED Blast: कुछ असैन्य वाहनों को विस्फोट की वजह से क्षति पहुंची लेकिन इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ. विस्फोट के बाद सुरक्षाबलों (Security Forces) ने हवा में कुछ गोलियां भी चलाईं. इलाके की घेराबंदी की गई है और हमलावरों की तलाश जारी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 16, 2021, 2:08 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के अनंतनाग जिले (Anantnag District) में सुरक्षा बलों के वाहन को निशाना बनाने के लिए आतंकवादियों ने आईईडी विस्फोट (IED Blast) किया. इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने दक्षिणी कश्मीर में अनंतनाग जिले के बिजबहेड़ा के पजालपोरा इलाके में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के एक बंकर वाहन को निशाना बनाया.

उन्होंने बताया कि कुछ असैन्य वाहनों को विस्फोट की वजह से क्षति पहुंची लेकिन इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ. विस्फोट के बाद सुरक्षाबलों ने हवा में कुछ गोलियां भी चलाईं. इलाके की घेराबंदी की गई है और हमलावरों की तलाश जारी है. बीती जनवरी में भी अनंतनाग जिले में आतंकवादियों ने चार जवानों पर हमला किया था. इस हमले में 4 जवान घायल हो गए थे. प्रवक्ता ने जानकारी दी थी कि घायल सैनिकों को मौके पर फर्स्ट एड दी गई. इसके बाद उन्हें इलाज के लिए 92 बेस अस्पताल ले जाया गया

पुलवामा आतंकी हमले की दूसरी बरसी पर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने व्यस्त जम्मू बस स्टैंड इलाके से 7 किलो आईडी पकड़ा था. जम्मू आईजी मुकेश सिंह ने जानकारी दी थी कि दो लोगों को इस मामले में हिरासत में लिया था. दोनों की पहचान सुहैल और काजी के रूप में हुई थी. रविवार को आईजी सिंह ने प्रेस ब्रीफिंग में जानकारी दी थी कि पुलिस को जानकारी मिली थी कि आतंकी संगठन 2019 पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर बड़े हमले की प्लानिंग कर रहा था. इसके बाद पुलिस ने सुहैल को गिरफ्तार किया था.

सांबा से मिली बड़ी सफलता


बीते दिनों जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सांबा जिले से द रेसिस्टेंस फोर्स के एक आतंकी को गिरफ्तार किया था. इस आतंकी की पहचान जहूर अहमत राठेर के रूप में हुई थी. जहूर पर भारतीय जनता पार्टी के तीन नेताओं और एक पुलिसकर्मी की हत्या का आरोप है. वहीं, कुछ हफ्तों पहले पुलिस को हिदायतुल्लाह मलिक के रूप में एक और बड़ी सफलता मिली थी. मलिक ने खुलासा किया था कि भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पर हमले की प्लानिंग की जा रही थी.

(भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज