आतंकियों ने फिर रची थी पुलवामा दोहराने की साजिश, सतर्कता से कम हुआ नुकसान

इस हमले में 6 सैन्यकर्मी और 2 नागरिक घायल हुए हैं. वहीं 14 फरवरी को इसी तरह के एक ब्लास्ट में 40 जवान शहीद हो गए थे.

News18Hindi
Updated: June 18, 2019, 8:28 AM IST
आतंकियों ने फिर रची थी पुलवामा दोहराने की साजिश, सतर्कता से कम हुआ नुकसान
जब सेना गश्त कर रही थी तभी 44 राष्ट्रीय राइफल्स के एक वाहन पर आईईडी के साथ एक मोबाइल वाहन गश्ती दल पर हमला करने का 'विफल प्रयास' किया गया था.
News18Hindi
Updated: June 18, 2019, 8:28 AM IST
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार को संदिग्ध आतंकियों ने सेना की गाड़ी पर हमला कर दिया. इस हमले को आतंकियों की 14 फरवरी की घटना दोहराने की साजिश की तरह देखा जा रहा है. हालांकि सुरक्षाबलों की सतर्कता से उनकी साजिश सफल नहीं हो पाई. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक इस हमले में 6 सैन्यकर्मी और 2 नागरिक घायल हुए हैं. सभी को 92 आर्मी बेस हॉस्पिटल श्रीनगर शिफ्ट किया गया है. बताया गया कि इनमें से तीन लोग गंभीर रूप से घायल हैं. बता दें कि 14 फरवरी को इसी तरह के एक ब्लास्ट में 40 जवान शहीद हो गए थे.

इससे पहले पाकिस्तान ने कश्मीर में संभावित आतंकी हमले को लेकर भारत और अमेरिका को सूचना दी थी. सोमवार को सेना को निशाना बनाकर किया गया विस्फोट, घातक पुलवामा हमले जैसा था. हालांकि वाहन के बख्तरबंद होने की वजह से नुकसान कम हुआ.

दूर से कंट्रोल की जा रही थी IED
एक पुलिस अधिकारी ने News18 को बताया कि IED एक कार में रखी गई थी जो सड़क के किनारे खड़ी थी. शुरुआती रिपोर्ट्स की मानें तो से पता चलता है कि IED को दूर से कंट्रोल किया जा रहा था. हमले में इस्तेमाल की गई कार दो टुकड़ों में अलग हो गई. बम फटने के बाद तुरंत बाद, गोलियों की आवाज सुनी गई. रीइन्फॉर्स्मन्ट फोर्स ने इलाके को घेरा और संदिग्ध आतंकियों की खोज के लिए ऑपरेशन शुरू किया गया.

सभी सैनिक सुरक्षित
श्रीनगर स्थित रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि जब सेना गश्त कर रही थी तभी 44 राष्ट्रीय राइफल्स के एक वाहन पर आईईडी के साथ एक मोबाइल वाहन गश्ती दल पर हमला करने का 'विफल प्रयास' किया गया था.

उन्होंने कहा कि सभी सैनिक सुरक्षित हैं, जबकि कुछ को मामूली चोटें आई हैं. गश्ती दल की सतर्कता के कारण नुकसान कम हुआ. पुलिस अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं कर पाई है कि इस हमले का पाकिस्तान द्वारा साझा किए गए कथित खुफिया इनपुट से कोई लेना-देना है या नहीं.
ये भी पढ़ें- अनंतनाग आतंकी हमला: शहीद पुलिसवाले के बेटे को गोद में लेकर पहुंचे SSP, रोके नहीं रुके लोगों के आंसू

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...