घाटी में कश्मीरी पंडितों का होना कई लोगों की आंखों में चुभता है, राकेश पंडिता की हत्या पर बोले परिजन

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकवादी हमले में मारे गए भाजपा पार्षद राकेश पंडिता के पार्थिव शव को अंतिम-संस्कार के लिए ले जाते उनके परिजन. (ANI Twitter/3 June 2021)

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकवादी हमले में मारे गए भाजपा पार्षद राकेश पंडिता के पार्थिव शव को अंतिम-संस्कार के लिए ले जाते उनके परिजन. (ANI Twitter/3 June 2021)

Jammu Kashmir Rakesh Pandita Murder: राकेश पंडिता के बेटे ने कहा, 'पापा ही हमारे घर में कमाने वाले थे, मैं सरकार से यही चाहता हूं कि अगर ये साज़िश है तो पता किया जाए कि इसके पीछे कौन थे.'

  • Share this:

श्रीनगर. दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकवादी हमले में मारे गए भाजपा पार्षद राकेश पंडिता का गुरुवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया. इससे पहले उनके पार्थिव शरीर को बृहस्पतिवार सुबह जम्मू स्थित उनके आवास पर ले जाया गया. बुधवार देर शाम पुलवामा जिले के तराल इलाके में अज्ञात आतंकवादियों ने पंडिता की हत्या कर दी. त्राल के स्थानीय निकाय के चेयरमैन पंडिता अपने मित्र मुश्ताक अहमद के घर जा रहे थे, उसी दौरान तीन अज्ञात आतंकवादियों ने उन पर गोलियां चलायीं. घटना में अहमद की बेटी भी जख्मी हुई हैं.


क्या बोले राकेश पंडिता के परिजन

राकेश पंडिता के बेटे ने कहा, 'पापा ही हमारे घर में कमाने वाले थे, मेरी मम्मी हाउस वाइफ हैं और चाचा विकलांग. मैं सरकार से यही चाहता हूं कि अगर ये साज़िश है तो पता किया जाए कि इसके पीछे कौन थे.' वहीं, राकेश पंडिता के मामा राधा कृष्ण रैना ने कहा कि इस मामले की उच्च स्तर जांच होनी चाहिए, वो चाहे फिर सीबीआई करे या एनआईए. उन्होंने इस घटना के लिए अलगाववादी मानसिकता वाले लोगों पर निशाना साधा और कहा, 'वे लोग यह हरगिज नहीं चाहते कि घाटी में कश्मीरी पंडित रहें. यहां कश्मीरी पंडितों की मौजूदगी कई लोगों की आंखों की किरकिरी है.'


'राकेश पंडिता अमर रहे' के लगे नारे
पंडिता का पार्थिव शरीर सुबह करीब पौने नौ बजे रूपनगर स्थित उनके आवास पर ले जाया गया जहां कोविड पाबंदियों के बावजूद भाजपा के शीर्ष नेताओं सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे. वहां मौजूद लोगों ने 'राकेश पंडिता अमर रहे' के नारे लगाए, जिन्हें सुनकर शोकाकुल परिवार जार-जार रो पड़ा.


महबूबा मुफ्ती ने कहा, खबर सुनकर सकते में हूं

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने भाजपा नेता की हत्या की निंदा की. उन्होंने ट्वीट किया, 'आतंकवादियों द्वारा भाजपा नेता राकेश पंडिता की हत्या की खबर सुनकर सकते में हूं. हिंसा की ऐसी बिना सोची-समझी घटनाओं से जम्मू-कश्मीर को सिर्फ दुख मिला है. मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे.'




भाजपा ने कहा, यह मानवता और कश्मीरियत की हत्या है

वहीं जम्मू-कश्मीर भाजपा के प्रमुख रविन्द्र रैना ने कहा कि पंडिता का 'शहीद' होना व्यर्थ नहीं जाएगा. उन्होंने पत्रकारों से कहा, 'पाकिस्तानी आतंकवादियों ने एक बार फिर कश्मीर घाटी में खून बहाया है. कायर पाकिस्तानियों ने ऐसे समर्पित भाजपा कार्यकर्ता पर हमला किया है, जो हमेशा अंधेरे में आशा की किरण बनकर घाटी में पाकिस्तानियों को चुनौती देते रहे. उनका शहीद होना व्यर्थ नहीं जाएगा.'



रैना ने कहा, 'घाटी में खून का होली खेलने वाले आतंकवादियों का खात्मा होगा. यह मानवता और कश्मीरियत की हत्या है.' पिछले साल जून में दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में एक कश्मीरी पंडित सरपंच की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. (इनपुट भाषा से भी)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज