लाइव टीवी

केंद्र शासित प्रदेश बनने के एक हफ्ते पहले जम्मू-कश्मीर में होंगे ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव

News18Hindi
Updated: September 29, 2019, 10:00 PM IST
केंद्र शासित प्रदेश बनने के एक हफ्ते पहले जम्मू-कश्मीर में होंगे ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव
जम्मू-कश्मीर में 24 अक्टूबर को ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव होने जा रहे हैं.

अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटे जाने के फैसले के बाद जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) केंद्र शासित प्रदेश के तौर पर 31 अक्टूबर से अस्तित्व में आएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2019, 10:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के आधिकारिक तौर पर केंद्र शासित प्रदेश बनने से ठीक एक हफ्ते पहले 24 अक्टूबर को राज्य में ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव होंगे. जम्मू-कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने रविवार को इसकी घोषणा की.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक जम्मू-कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शैलेंद्र कुमार ने रविवार को कहा कि पूरे जम्मू-कश्मीर में ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव 24 अक्टूबर को सुबह 9 बजे से 1 बजे के बीच होंगे. इसी दिन वोटों की गिनती की जाएगी जो कि दोपहर 3 बजे शुरू होगी. ये चुनाव राज्य के 316 में से 310 ब्लॉक में होगा.

बैलेट बॉक्स से होंगे मतदान
शैलेंद्र कुमार ने कहा कि इन चुनावों में पिछले साल चुने गए पंच और सरपंच इन ब्लॉक के लिए बीडीसी चेयरपर्सन चुनेंगे. निर्वाचकों की संख्या 26,629 है और चुनाव बैलेट बॉक्स के माध्यम से होंगे. उन्होंने बताया कि हर उम्मीदवार अपने चुनावी प्रचार के लिए सिर्फ 2 लाख रुपये खर्च कर सकता है.

कुमार ने बताया कि हर ब्लॉक में सिर्फ एक पोलिंग स्टेशन होगा. मतदान अपनी गाइनलाइंस के हिसाब से हो रहे हैं यह सुनिश्चित करने के लिए हर दो ब्लॉक के लिए एक ऑब्ज़र्वर नियुक्त किया जाएगा. आपको बता दें 316 में से 172 सीटें एससी, एसटी और महिलाओं के लिए आरक्षित हैं.

गृह मंत्री ने कहा था राज्य में नहीं है पाबंदियां
यह पहला ऐसा कदम होगा जो जम्मू-कश्मीर में मौजूदा सुरक्षा स्थिति का परीक्षण करेगा. ये घोषणा गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) के उस बयान के ठीक एक दिन बाद हुई है जिसमें उन्होंने कहा था कि कश्मीर में किसी भी तरह की पाबंदियां नहीं है और यह विपक्ष द्वारा फैलाई जा रही गलत जानकारी है.
Loading...

राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर हुए एक सेमिनार में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि कहां पाबंदियां हैं? यह सिर्फ आपके दिमाग में हैं. वहां कोई भी पाबंदी नहीं है. पाबंदियों को लेकर गलत जानकारी फैलाई जा रही है.

आपको बता दें 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटा दिया गया था. इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया गया था.

ये भी पढ़ें-
शांति, विकास, राजनीति, पैसा और पाकिस्तान: नए कश्मीर की राह में कई बाधाएं

जम्मू में लगाये गये चेतावनी भरे पोस्टर, पुलिस ने कहा- उपद्रवियों की करतूत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 8:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...