J&K, उत्तराखंड, हिमाचल में भारी बर्फबारी, कश्मीर के चार जिलों में हिमस्खलन की चेतावनी

हिमाचल में बर्फबारी. (FILE PHOTO)
हिमाचल में बर्फबारी. (FILE PHOTO)

उत्तर भारत (North India) के पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी के बाद मौसम का मिजाज बदलने लगा है. जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी (Snowfall) के बाद दिल्ली (Delhi) में न्यूनतम तापमान 16 डिग्री दर्ज किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 12:48 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड (Uttarakhand) और हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के ऊंचाई वाले विभिन्न क्षेत्रों में बर्फ की चादर बिछ गयी है. पर्यटन स्थल कुफरी, मनाली और औली में मौसम की पहली बर्फबारी हुई. वहीं बारिश के बाद दिल्ली, हरियाणा (Haryana) और पंजाब (Punjab) में तापमान गिर गया है. केंद्रशासित प्रदेश में भारी बर्फबारी (Snowfall) और भूस्खलन के बाद रामबन जिले में महत्वपूर्ण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग (Jammu-Srinagar National Highway) को बंद कर दिया गया और कश्मीर में प्रशासन ने चार जिलों- कुपवाड़ा, बांदीपुर, बारामुला और गांदेरबल के लिए हिमस्खलन की चेतावनी जारी की.

उत्तराखंड के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी बर्फबारी के बीच केदारनाथ (Kedarnath) और यमुनोत्री धाम को सर्दी के लिए बंद कर दिया गया. दिल्ली में अधिकतम तापमान 25.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि इस मौसम का सबसे कम तापमान है. हालांकि न्यूनतम तापमान 16 डिग्री दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अधिकारियों ने क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव को अधिकतम तापमान में गिरावट और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी का कारण बताया है. मौसम विभाग के मुताबिक शुक्रवार तक न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे जाने का अनुमान है.

हरियाणा और पंजाब में कई स्थानों पर बारिश होने से तापमान गिर गया है. चंडीगढ़ समेत कुछ स्थानों पर सोमवार सुबह भी बारिश हुई. रविवार को गुरदासपुर, पठानकोट, जालंधर, पटियाला, लुधियाना, पंचकूला, सोनीपत, गुरुग्राम, कुरूक्षेत्र, करनाल समेत अन्य स्थानों पर बारिश हुई. बारिश के बाद दोनों राज्यों में तापमान गिर गया है.



PHOTOS: शिमला के कुफरी और नारकंडा में सीजन की पहली बर्फबारी
उत्तराखंड के केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, औली और हरसिल सहित ऊपरी हिमालयी क्षेत्रों में रविवार रात से बर्फबारी ही शुरू हो गई थी और सोमवार सुबह तक जारी रही. इससे ये इलाके बर्फ से ढक गए. भारी बर्फबारी के चलते उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Chief Minister Trivendra Singh Rawat) को केदारनाथ मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद बदरीनाथ (Badrinath) रवाना होने में देरी हुई. हालांकि, सोमवार सुबह केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने से पहले दोनों मुख्यमंत्रियों ने भगवान शिव के दर्शन किए और पूजा में भाग लिया.

हिमाचल में बर्फबारी से गिरा पारा, केलांग में न्यूनतम तापमान 0 डिग्री के करीब पहुंचा

हिमाचल प्रदेश के मुख्य पर्यटन स्थलों कुफरी और मनाली में सोमवार को मौसम की पहली बर्फबारी हुई. शिमला स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि पिछले 24 घंटों में शिमला जिले के कुफरी में सात सेंटीमीटर बर्फबारी हुई जबकि कुल्लू जिले के मनाली में दो सेमी बर्फबारी हुई. उन्होंने बताया कि सांगला में 25 सेमी बर्फबारी हुई, जबकि गोंदला में 20 सेमी, खदराला में 18 सेमी, काल्पा में 5.6 सेमी और केलांग में 4 सेमी बर्फबारी हुई. इसके अलावा, राजधानी शिमला सहित राज्य के कई अन्य क्षेत्रों में बारिश हुई. शिमला में 21.6 मिलीमीटर बारिश हुई.

एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों ने सिंथल दर्रे में भारी बर्फबारी के बीच फंसे 10 लोगों को बचाया. जवाहर टनल के आसपास बर्फबारी और रामबन जिले में कई स्थानों पर भूस्खलन होने से जम्मू-कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग को सोमवार को यातायात के लिए बंद कर दिया गया. अधिकारियों ने बताया कि घाटी को पूरे देश से जोड़ने वाली मुगल रोड भी बर्फबारी के कारण लगातार तीसरे दिन बंद है, क्योंकि ऊंचे इलाकों में बर्फबारी हुई है, वहीं जम्मू और अन्य हिस्सों के मैदानी इलाकों में बारिश हुई.

उन्होंने बताया कि जवाहर टनल के आसपास रविवार शाम बर्फबारी शुरू हुई थी जो रुक-रुक कर जारी रही, जिससे सड़क पर फिसलन होने के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को यातायात के लिए बंद करना पड़ा. सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के कर्मियों और मशीनों की सहायता से सड़क को साफ करने का काम जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज