कुमारस्वामी की सरकार पर संकट, ज्योतिषियों और टोटकों की शरण में JDS नेता

जेडीएस के नेताओं का ज्योतिषों के हवाले से कहना है कि अगर विधानसभा में विश्वासमत पर चर्चा मंगलवार तक खिंच गई तो कुमारस्वामी की सरकार बच जाएगी.

News18Hindi
Updated: July 20, 2019, 1:37 PM IST
कुमारस्वामी की सरकार पर संकट, ज्योतिषियों और टोटकों की शरण में JDS नेता
कुमारस्वामी सरकार को बचाने के लिए ज्योतिषों की शरण में जेडीएस नेता (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 20, 2019, 1:37 PM IST
कर्नाटक में सरकार बचाने और गिराने का 'नाटक' जारी है. पिछले 14 दिनों से मुख्यमंत्री कुमारस्वामी की सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. राज्य की तीनों मुख्य पार्टियां विधायकों की जोड़-तोड़ में जुटी हुई हैं तो भगवान की पूजा और टोटकों का सहारा भी ले रही हैं. इसके अलावा ज्योतिषियों की राय भी ली जा रही है.

सत्तारूढ़ जेडीएस के नेताओं का कहना है कि अगर विधानसभा में विश्वासमत पर चर्चा मंगलवार तक खिंच गई तो कुमारस्वामी की सरकार बच जाएगी. जेडीएस नेता ज्योतिषियों के हवाले से ये दावा कर रहे हैं. जेडीएस के एक सदस्य ने कहा कि जेडीएस सुप्रीमो एचडी देवगौड़ा, कुमारस्वामी, उनके भाई एचडी रेवन्ना और उनका परिवार सरकार बचाने के लिए विशेष पूजा कर रहा है.

नंगे पैर चल रहे हैं एचडी रेवन्ना
कुमारस्वामी के भाई एचडी रेवन्ना ज्योतिषों की सलाह के अनुसार ही हर काम करते हैं. पिछले दिनों जबसे कुमारस्वामी की सरकार पर खतरा मंडराया है वे नंगे पैर चल रहे हैं, ताकि दुष्ट शक्तियां दूर रहें. रेवन्ना गुरुवार को विधानसभा में भी नंगे पैर आए थे और उनके हाथ में एक नींबू था. कर्नाटक में इस नींबू को लेकर भी विवाद हो रहा है. बीजेपी का आरोप है कि वे टोटके के लिए नींबू लेकर आए थे, हालांकि कुमारस्वामी ने इससे इनकार किया है. बताया जा रहा है कि रेवन्ना मुसीबत के वक्त अपने हाथ में नींबू रखते हैं.

बीजेपी में भी चल रहा है पूजा पाठ
वहीं पूजा पाठ बीजेपी में भी जारी ह. बीजेपी सांसद करंदलजे येदियुरप्पा के सीएम बनने के लिए अनुष्ठान कर रही है. इसके लिए वह मंदिर में 10001 सीढ़ियां चढ़कर पहुंची थी.

ये भी पढ़ें: टीवी सीरियल से विधानसभा तक- ऐसे सियासी नाटक से अजनबी नहीं हैं रमेश कुमार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 20, 2019, 12:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...