लाइव टीवी

चुनावी खर्चे का बिल नहीं जमा करने पर रद्द हो सकता है JNU छात्रसंघ सदस्यों का चुनाव

भाषा
Updated: October 16, 2018, 1:14 AM IST
चुनावी खर्चे का बिल नहीं जमा करने पर रद्द हो सकता है JNU छात्रसंघ सदस्यों का चुनाव
JNUSU के परिणाम आने के बाद Left Unity के प्रत्याशी जश्न मनाते हुए- फाइल फोटो

छात्र संघ के चुने गए पदाधिकारियों ने चुनाव के प्रचार के दौरान किए गए खर्चों के प्रमाण 28 सितंबर को जमा कर दिए थे लेकिन डीओएस की ओर से चार अक्टूबर को लिखे गए एक पत्र में इन पदाधिकारियों से मूल बिल जमा करने को कहा गया.

  • Share this:
जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय  का छात्र संघ चुनाव रद्द किया जा सकता है. JNUSU को अधिकारियों ने सूचित किया है कि चुनाव प्रचार अभियान में जीएसटी नंबर वाले मूल बिल नहीं जमा करने पर उनके पदाधिकारियों का चुनाव रद्द हो सकता है. छात्र संघ को जारी किए गए एक पत्र में यह बात कही गई है.

विश्वविद्यालय के अधिकारियों का कहना है कि जमा किए गए बिल सही प्रारूप में नहीं थे. छात्र संघ के चुने गए पदाधिकारियों ने चुनाव के प्रचार के दौरान किए गए खर्चों के प्रमाण 28 सितंबर को जमा कर दिए थे लेकिन डीन ऑफ स्टूडेंट्स (डीओएस) प्रोफेसर उमेश कदम की ओर से चार अक्टूबर को लिखे गए एक पत्र में इन पदाधिकारियों से मूल बिल जमा करने को कहा गया.

कदम की ओर से लिखे गए पत्र में कहा गया कि जेएनयू छात्र संघ की ओर से जमा किए गए बिल लिंगदोह कमिटी की सिफारिशों के अनुरूप नहीं थे जिसके मुताबिक, 'प्रत्येक उम्मीदवार को चुनाव परिणाम घोषित होने के दो हफ्ते के भीतर पूर्ण एवं लेखा परीक्षित खाते कॉलेज/ यूनिवर्सिटी अधिकारियों को सौंपने होंगे.'



यह भी पढ़ें:  JNU के लापता छात्र नजीब का दो साल बाद भी नहीं चला पता, CBI ने बंद की तलाश



दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र संघ चुनाव के परिणाम 16 सितंबर को आए थे. यहां वाम दलों के गठबंधन Left Unity ने क्लीन स्वीप किया और ABVP नंबर दो पर थी. 14 सितंबर को छात्र संघ चुनाव के लिए चार अहम पदों के लिये मतदान किया गया था.

Left Unity की तरफ से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार एन. साई बालाजी को 2,161 वोट मिले और उन्होंने इस पद पर जीत दर्ज की जबकि उपाध्यक्ष पद के लिए Left Unity की उम्मीदवार सारिका चौधरी सबसे अधिक 2,692 वोट हासिल कर विजयी हुईं थीं.

महासचिव पद के लिए Left Unity के उम्मीदवार ऐजाज अहमद को 2,423 वोट मिले और उन्होंने इस पद पर जीत दर्ज की थी. Left Unity की तरफ से संयुक्त सचिव पद की उम्मीदवार अमुथा को 2,047 वोट मिले और उन्होंने भी जीत हासिल की थी.

यह भी पढ़ें:  एम्स में मारपीट: कन्हैया के खिलाफ FIR दर्ज, मंगल पांडे बोले - JNU नहीं जो कुछ भी करेंगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2018, 1:11 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading