लाइव टीवी

जेएनयू छात्रों ने एडमिन ब्लॉक में कुलपति के खिलाफ लिखे मैसेज

भाषा
Updated: November 14, 2019, 1:57 AM IST
जेएनयू छात्रों ने एडमिन ब्लॉक में कुलपति के खिलाफ लिखे मैसेज
JNU छात्रों का दावा था कि इसमें शुल्क वृद्धि, ड्रेस कोड और कर्फ्यू के समय को लेकर प्रावधान हैं. (PTI Photo/Kamal Singh)

JNU Fee Hike: जेएनयू छात्रसंघ, मसौदा छात्रावास नियमावली को लेकर प्रदर्शन कर रहा था.

  • Share this:
नई दिल्ली. जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के कुलपति एम जगदीश कुमार से छात्रावास फीस वृद्धि को लेकर बुधवार को उनसे बातचीत के लिए पहुंचे विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय के प्रशासनिक ब्लॉक में उनके खिलाफ दीवारों पर जगह- जगह नारे लिख दिये. शाम तक फीस में वृद्धि आंशिक रूप से वापस ले ली गयी और जेएनयू प्रशासन ने कहा कि छात्रावास नियमावली मसविदा से ड्रेस कोड और आने जाने के समय से जुड़े उपबंध भी हटा दिये गये हैं.

दिन में जेएनयूएसयू की अगुवाई में सैंकड़ों विद्यार्थी कुलपति से बात करने के लिए प्रशासनिक ब्लॉक में घुस गये और बिल्डिंग में उनके एवं अन्य अधिकारियों के नहीं मिलने पर उन्होंने उनके कार्यालय के समीप की दीवारों पर कई बातें लिख दीं. उन्होंने कुलपति के कार्यालय के दरवाजों पर लिखा, ' आप हमारे कुलपति नहीं हैं, आप अपने संघ में लौट जाइए.’ एक अन्य संदेश में लिखा था, ‘मामिदाला, बाय, बाय फोरएवर.'

दीवारों पर यह भी लिखा था, 'नजीब को वापस लाइए.' घड़ी पर लिख दिया गया, ' टाईम फोर रिवोल्यूशन.' जेएनयू से स्नातोकोत्तर (जैव प्रौद्योगिकी) के प्रथम वर्ष का छात्र नजीब अहमद 15 अक्टूबर, 2016 को संदिग्ध स्थितियों में लापता हो गया था. उसका अबतक पता नहीं चला. विश्वविद्यालय के एक अधिकारी ने कहा, ' देखिए, वे क्या कर रहे हैं? उन्हें कुछ सम्मान तो दिखाना चाहिए.'

यह भी पढ़ें:  JNU हॉस्टल में एंट्री और ड्रेस कोड संबंधी नियमों को लिया गया वापस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 1:47 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर