बाइडेन सरकार के इस फैसले से IT सेक्टर में काम करने वाले भारतीयों को मिलेगी राहत

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने वीजा नियमों बदलाव किया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने वीजा नियमों बदलाव किया है.

अमेरिकी सरकार के H1B पर फैसले से आईटी सेक्टर में काम करने वाले भारतीयों को बड़ी राहत मिली है. जिन आवेदकों को वीजा (US H1B visa status) मिलेगा, वह 1 अक्टूबर से अपनी नौकरी शुरू कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2021, 1:45 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका में जो बाइडेन (Joe Biden) के राष्ट्रपति बनने के बाद से ही वह पिछली सरकार के फैसलों को लगातार पलट रहे हैं. अब उन्होंने एच-1बी वीजा (US H1B visa) को लेकर भी एक बड़ा फैसला लिया है. जो बाइडेन प्रशासन की ओर से कहा गया है कि इमिग्रेशन ओवरहॉल श्रमिक समूहों के व्यापक विरोध को हिलाए बिना अमेरिका में अधिक कुशल विदेशी श्रमिकों को अनुमति देने का प्रयास करता है.

बाइडेन प्रशासन द्वारा पहले दिन कांग्रेस को भेजे गए प्रस्ताव ने रिपब्लिकन विपक्ष को आकर्षित किया है. एक अन्य प्रावधान से अधिक विदेशी छात्रों और श्रमिकों को रोजगार-आधारित ग्रीन कार्ड की संख्या में वृद्धि करके अमेरिका में प्रवेश करने की अनुमति मिलेगी.

Youtube Video


डोनाल्ड ट्रंप ने बदले थे नियम
इससे पहले ट्रंप प्रशासन (Trump Administration) के समय एच-1बी वीजा से जुड़ी चयन प्रक्रिया में बदलाव (US H1B visa changes) किया गया था. इन बदलावों के तहत लॉटरी सिस्टम के स्थान पर वेतन और कौशल को प्राथमिकता देने की बात कही गई थी. इससे भारतीय आईटी पेशेवर सबसे अधिक प्रभावित होने वाले थे. ट्रंप सरकार में किए गए ये बदलाव 9 मार्च से लागू होने थे. हालांकि 7 जनवरी को ही यूएससीआईएस ने घोषणा करते हुए कहा कि वह पारंपरिक लॉटरी सिस्टम का इस्तेमाल जारी रखेगा. उसने ये भी कहा कि वह चयन प्रक्रिया में अमेरिकी कर्मियों से हितों की रक्षा के लिए वेतन और इस बात का ध्यान रखेगा कि इस योजना से अधिक कौशल वाले लोगों को ही फायदा हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज